विज्ञापन
विज्ञापन

जानिए, किन्हें मिलती है होम लोन पर कर में छूट

नई दिल्ली/कारोबार डेस्क Updated Thu, 13 Sep 2012 04:20 PM IST
Individual or huf receives tax deduction for home loan
ख़बर सुनें
आयकर में घर से संबंधित कोई भी कटौती क्लेम करने के लिए व्यक्ति या हिन्दू अविभाजित परिवार (एचयूएफ) का मालिक होना आवश्यक है। घर से संबंधित कोई भी कटौती केवल व्यक्ति या एचयूएफ ही प्राप्त कर सकते हैं और यह कटौती एक से अधिक घर होने पर भी ली जा सकती है।
विज्ञापन
विज्ञापन
होम लोन से संबंधित कटौती लेने के लिए आयकर में ऐसी कोई आवश्यकता नहीं है कि जिस घर के लिए कर्ज लिया गया है, उसे कर्ज देने वाले के पास गिरवी रखा जाए। इसके लिए जो शर्त पूरी करनी होती है, वह यह है कि लिया गया लोन गृह संपत्ति की खरीद या निर्माण करने के लिए इस्तेमाल किया जाए। आप घर खरीदने, निर्माण, मरम्मत या फिर मकान के पुनर्निर्माण के लिए कर्ज ले सकते हैं। इन उद्देश्यों की पूर्ति के लिए लिये गए लोन पर आप आयकर में कटौती क्लेम कर सकते हैं।

होम लोन के भुगतान में ब्याज तथा मूल ऋण शामिल होता है। दोनों के लिए अलग-अलग कटौती प्रदान की जाती है। देय ब्याज पर धारा 24 (b) में कटौती मिलती है। यदि कर्ज घर के निर्माण के लिए लिया गया है और निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ है तो कर्ज लेने की तिथि से निर्माण पूरा होने के वर्ष से पहले के वित्त वर्ष तक का कुल देय ब्याज पांच समान वार्षिक किस्तों में अगले वर्षों के देय ब्याज के साथ धारा 24 (b) में क्लेम किया जा सकता है। यदि घर को स्वयं के रहने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, तो लोन 1-4-1999 के बाद लिया गया हो और घर का निर्माण तीन वर्षों में पूरा हुआ हो तो अधिकतम 1.50 लाख रुपये के देय ब्याज की कटौती मिलती है, अन्यथा 30,000 रुपये की कटौती मिलेगी। किराए के घर के लिए तो संपूर्ण ब्याज की कटौती क्लेम कर सकते हैं।

मूलधन के भुगतान पर धारा 80 सी (xviii) में कटौती क्लेम कर सकते हैं। यह ध्यान रखें कि जब तक घर का निर्माण पूरा नहीं हो जाता, तब तक होम लोन के पुनर्भुगतान पर कटौती नहीं मिलेगी। यह ध्यान रखें कि पांच वर्षों से पहले घर को बेचने पर आपने जो भी कटौती धारा 80 सी में क्लेम की है, वह आपकी मकान विक्रय के पांच वर्ष की करयोग्य आय में शामिल होगी।

समझ लें लोन का गणित
मकान खरीदने के लिए बैंक मकान की कीमत और रजिस्ट्रेशन खर्च का 80 प्रतिशत तक का लोन दे देते हैं और इसपर 9 से 11 प्रतिशत तक ब्याज लेते हैं, परंतु यह सब आय और संपत्ति आदि पर निर्भर करता है। 10 फीसदी की ब्याज दर पर 20 साल के लिए लोन लेने पर प्रत्येक एक लाख रुपये पर करीब 1,000 रुपये की मासिक किस्त (ईएमआई) बनती है। होम लोन लेने वाले व्यक्ति को चाहिए कि वह कर्ज के बराबर की राशि का अपना टर्म बीमा अवश्य करा ले, ताकि उसके न रहने पर परिवार पर लोन का बोझ न पड़े। इन सब बातों का ध्यान रख कर आप अपने निवेश तथा टैक्स की बेहतर तरीके से प्लानिंग कर सकते हैं।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
ज्योतिष समाधान

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Personal Finance

अब बिना आधार कार्ड के भी मिल जाएगा सिम कार्ड, एक मई से लागू होगा नया नियम

उच्च न्यायालय के दिशानिर्देशों के बाद दूरसंचार कंपनियों ने एक नई प्रणाली तैयार की है, जिसे एक मई से ही लागू कर दिया जाएगा। इसके तहत ग्राहकों को बिना आधार कार्ड के भी सिम कार्ड आसानी से मिल जाएगा।

26 अप्रैल 2019

विज्ञापन

उत्तर प्रदेश के ज्यादातर एग्जिट पोल में भाजपा को 50 से ज्यादा सीटें

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए आखिरी चरण का मतदान संपन्न होते ही एग्जिट पोल सामने आ गए है। उत्तर प्रदेश में छह में से पांच एग्जिट पोल में भाजपा को 50 से ज्यादा सीटें।

19 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election