लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   India China trade grows to record 125 billion USD in 2021 despite border tension in Eastern Ladakh news in Hindi

भारत-चीन: सीमा पर तनाव के बावजूद कारोबार में इजाफा, पिछले साल छुआ 125 अरब डॉलर का रिकॉर्ड स्तर

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: गौरव पाण्डेय Updated Fri, 14 Jan 2022 08:42 PM IST
सार

सीमा पर तनाव के बावजूद भारत और चीन के कारोबार पर कोई नकारात्मक असर नहीं पड़ा है। पिछले साल दोनों देशों के बीच कारोबार में रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की गई है।

भारत चीन गतिरोध
भारत चीन गतिरोध - फोटो : iStock
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

भारत और चीन का द्विपक्षीय कारोबार साल 2021 में 125 अरब अमेरिकी डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया। शुक्रवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार दोनों देशों के बीच व्यापार ने यह आंकड़ा तब छुआ है जब पूर्वी लद्दाख में दोनों पक्षों के बीच सैन्य गतिरोध चल रहा है। आंकड़ों के अनुसार भारत का कारोबारी घाटा भी बढ़कर 69 अरब डॉलर से अधिक हो गया।


आंकड़ों के मुताबिक साल 2021 में दोनों देशों के एक-दूसरे को निर्यात में इजाफा दर्ज किया गया। पिछले साल चीन की ओर से भारत को निर्यात 46.2 फीसद बढ़कर 97.52 अरब पर पहुंच गया। इसके साथ ही इस दौरान भारत की ओर से चीन को निर्यात भी 34.2 फीसदी बढ़ा और 28.14 अरब डॉलर हो गया। वहीं, इस साल भारत का कारोबारी घाटा 69.38 अरब डॉलर हो गया। 

कारोबारी घाटे का मुद्दा उठाता रहा है भारत
भारत बढ़ते कारोबारी घाटे के मुद्दे को लेकर अपनी चिंताओं को चीन के साथ एक दशक से अधिक समय से अवगत कराता रहा है। भारत  अपने सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) व फार्मास्यूटिकल उत्पादों के लिए बीजिंग से इसके बाजारों को खोलने की मांग करता रहा है। हालांकि, 2021 में कारोबार बढ़ने के बाद भी सीमा विवाद के चलते दोनों देशों के संबंध तनावपूर्ण ही बने रहे।

कोरोना ने बढ़ाया चीन से भारत को निर्यात
जानकारों का कहना है कि चीन का निर्यात बढ़ने के पीछे कोरोना वायरस वैश्विक महामारी की दूसरी लहर भी काफी हद तक जिम्मेदार रही। इसकी वजह से भारत को अपने तेजी से बढ़ते फार्मास्यूटिकल उद्योग के लिए बड़ी मात्रा में चिकित्सकीय उत्पाद और कच्चा माल निर्यात करना पड़ा। हालांकि, अब भारत का ये उद्योग काफी सक्षम हुआ है और अन्य देशों पर निर्भरता घटी है।

अभी भी बना हुआ है सीमा पर सैन्य गतिरोध
भारत और चीन की सेनाओं के बीच सीमा पर गतिरोध की शुरुआत पिछले साल पांच मई को पैंगोंग झील इलाके में एक हिंसक झड़प के साथ हुई थी। इसके बाद दोनों पक्षों ने तेजी के साथ सीमा पर अपनी सैन्य मौजूदगी बढ़ाई थी और हजारों की संख्या में सैनिकों को भारी हथियारों के साथ तैनात किया था। फिलहाल दोनों के बीच विवाद हल करने के लिए वार्ताओं का दौर चल रहा है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00