विज्ञापन

अगस्त से पहले भी शुरू हो सकती हैं अंतरराष्ट्रीय उड़ानें

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 23 May 2020 01:45 PM IST
विज्ञापन
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी - फोटो : PTI
ख़बर सुनें

सार

  • अगस्त से पहले अंतरराष्ट्रीय यात्रा के लिए उड़ानें शुरू हो सकती हैं- हरदीप सिंह पुरी।
  • वंदे भारत मिशन के तहत 25 हजार 465 भारतीयों को वापस लाया जा चुका है।
  • 25 मई से 33 फीसदी घरेलू उड़ानें शुरू हो रही हैं। 

विस्तार

वैश्विक महामारी कोरोना के चलते ठप पड़ी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें अगस्त से पहले शुरू करने की तैयारी है। एक सवाल के जवाब में नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी ने कहा, अगस्त-सितंबर से पहले भी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू हो सकती हैं। हालांकि एक अन्य बयान में उन्होंने कहा, अगस्त-सितंबर तक इंतजार क्यों करना? अगर हालात बेहतर होते हैं और हम संक्रमण के साथ जीने का रास्ता निकाल लेते हैं और कुछ प्रबंध करने की स्थिति में हुए तो जून मध्य या जुलाई में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें क्यों नहीं शुरू कर सकते?
विज्ञापन

घरेलू उड़ानें शुरू करने की घोषणा के तीन दिन बाद शनिवार को फेसबुक लाइव के जरिये लोगों से रूबरू पुरी ने कहा, उड़ानें शुरू करने से पूर्व सरकार सभी की सुरक्षा सुनिश्चित करना चाहती है। अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के बारे में पूछे सवाल पर उन्होंने कहा, मैं कोई तारीख नहीं बता सकता लेकिन कोई मुझसे पूछे कि क्या ऐसा अगस्त या सितंबर में हो सकेगा तो मेरा जवाब यही होगा कि इससे पहले क्यों नहीं? सब हालात पर निर्भर करता है।
उम्मीद है कि अगर हम पूरी अंतरराष्ट्रीय सेवा शुरू नहीं भी कर पाते तो अगस्त-सितंबर से पहले ठीक-ठाक संख्या में उड़ानें शुरू कर सकेंगे। एयरपोर्ट अथॉरिटी और एयरलाइंस इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं। गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद 25 मार्च से सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें बंद हैं।
आरोग्य सेतु एप अनिवार्य नहीं
पुरी ने कहा, अगर किसी के पास स्मार्ट फोन नहीं है तो उसे यात्रा से रोका नहीं जाएगा। हमने पहले ही स्पष्ट किया है कि आरोग्य सेतु एप अपरिहार्य नहीं है लेकिन इसके बदले आपको स्व-घोषणा फॉर्म भरना होगा।

क्वारंटीन की क्या जरूरत है?
हवाई यात्रियों को सेल्फ आइसोलेशन या सेल्फ क्वारंटीन करने के सवाल पर पुरी ने कहा, आरोग्य सेतु एप पासपोर्ट की तरह है। अगर आरोग्य सेतु एप पर स्टेटस ग्रीन है तो इसकी जरूरत नहीं है। दरअसल, कर्नाटक और महाराष्ट्र जैसे कुछ राज्यों ने घरेलू यात्रियों को भी क्वारंटीन करने की बात कही है। 

वंदे भारत मिशन : 50 लोग स्वदेश लौटेंगे
पुरी ने कहा, सात मई से शुरू वंदे भारत मिशन के तहत इस महीने के अंत तक विदेशों में फंसे 50 हजार लोगों को स्वदेश लाने का लक्ष्य है। 21 मई तक 23 हजार स्वदेश लौट चुके हैं। उन्होंने बताया, श्रीलंका में फंसे भारतीयों को विमान और जलयान से लाने की तैयारी है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us