पारा 42 के पार, बिजली हुई तार-तार

Hamirpur Updated Fri, 11 May 2012 12:00 PM IST
हमीरपुर। आग बरसाती गर्मी में बिजली की अघोषित कटौती से लोगों की जीवन चर्या चरमरा गई है। जिसके चलते लोग गर्मी से बिलबिला रहे है। बिजली न होने से पेयजल का संकट और गहरा गया है। गुरुवार की शाम कुछ उपभोक्ताओं ने पावर हाउस पहुंचकर रोष जताया।
मौजूदा समय में मुख्यालय सहित पूरे जिले में जबरदस्त बिजली कटौती की जा रही है। बीती रात मलवां में सीटी खराब होने से बिजली आपूर्ति ठप हो गई है। बांदा से राठ और सरीला क्षेत्र क ो दी जाने वाली बिजली में से कुछ बिजली जिला मुख्यालय, मौदहा, सुमेरपुर, कुरारा को दी जा रही है। आपूर्ति कम मिलने से इनवर्टर भी बोल गए। लोगों के घरों में अंधेरा और पंखे बंद हो गए हैं। जलसंस्थान बिजली के बिना अपने नलकूपों को नहीं चला पा रहा है। जिससे मुख्यालय सहित विभिन्न कसबों और ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति लगभग बंद हो गई है। इस मामले में अधिशाषी अभियंता नन्नू सिंह से बात करने का प्रयास किया गया लेकिन उनका मोबाइल बिजी मिलता रहा। मौदहा प्रतिनिधि के अनुसार बढ़ते हुए तापमान से जहां लोग बुरी तरह त्रस्त है। वहीं पावर कारपोरेशन की मुख्य आपूर्ति लाइन बाधित होने से बुधवार की आधी रात से बिजली नही आई। स्टेट बैंक का सर्वर फेल होने से कनेक्टविटी न होने से काम बाधित रहा। हमीरपुर विकास संस्थान ने डीएम को ज्ञापन देकर बिजली आपूर्ति सुचारू रूप से करने की मांग की है। बीते 15 दिन से मुख्यालय सहित कुरारा क्षेत्र के आसपास के गांवाें में बिजली आपूर्ति व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। बिजली आने और जाने का कोई समय नहीं है। जिससे लोग बगैर बिजली के बेहाल हो रहे हैं। हमीरपुर विकास संस्थान के अध्यक्ष प्रकाशचंद्र ओमर के की अगुवाई में राजेंद्र वीर सिंह चौहान, मनीराम वर्मा, लक्ष्मीकांत त्रिपाठी, कृष्णकुमार, शैलेंद्र सिंह परिहार, संतोष कुमार निगम, सुशील कुमार द्विवेदी सहित अन्य लोगों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर कहा कि पिछले रोस्टर के मुताबिक 7 घंटे की कटौती की जाती थी। इधर 15 दिन से बिजली कटौती बढ़ गई है। मौजूदा समय में करीब 10 घंटे ही बिजली दी जा रही है।
राठ में दिन भर गुल रही बिजली
राठ। गुरुवार को राठ में सारा दिन बिजली आपूर्ति ठप रहने से लोग पानी के लिए तरसते रहे। बिजली न होने पानी के साथ-साथ लोग गर्मी से भी बेहाल रहे। बाजार का कारोबार ठप रहा। अवर अभियंता भूप सिंह ने बताया कि जहानाबाद में लाइन में खराबी से बिजली ठप रही।

Spotlight

Related Videos

मालदीव संकट की ये है असली वजह

मालदीव के हालात सुधरते नजर नहीं आ रहे हैं। मलादीव इस वक्त सियासी संकट से जूझ रहा है। राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन अब्दुल गयूम ने 15 दिनों के आपातकाल की घोषणा की है।

23 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen