बंदरबांट की भेंट चढ़ी आदर्श नगर योजना

Bhadohi Updated Fri, 04 May 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। नगर पालिका परिषद गोपीगंज में आदर्श नगर योजना के तहत कराया गया कार्य भ्रष्टाचार और बंदरबांट की भेंट चढ़ गया है। ठेकेदारों की मनमानी व अधिकारियों की मिलीभगत के चलते अधिकांश कार्य मानक के विपरीत कराया गए। इससे बनने के बाद से ही निर्माण कार्य ध्वस्त हो गए। कई स्थानों पर तो बिना जल निकासी की व्यवस्था किए ही आधी अधूरी सड़क का निर्माण कराकर निर्माण पूरा दिखा दिया गया।
आदर्श नगर योजना के तहत वर्ष 2010 में शासन ने नगर पालिका परिषद गोपीगंज को 50 लाख रुपये अवमुक्त किया गया था। इस धनराशि से प्रस्ताव के अनुरूप कुल 14 निर्माण कार्य कराए गए थे। इसमें सड़क, सीसी रोड नाली, खड़ंजा आदि शामिल थे। इन 14 कार्यों में अधिकांश कार्य मानक की अनदेखी करते हुए कराए गए हैं। निर्माण के दौरान भी नागरिकों ने इसका विरोध किया था, लेकिन पालिका के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। आनन फानन में ठेकेदारों ने आधा अधूरा कार्य कराकर कागज पर उसे पूरा दिखा दिया और पैसा हजम कर गए। अधिकारियों की इस उदासीनता का खामियाजा नागरिकों को भुगतना पड़ रहा है। खड़हट्टी मुहाल से बघेल छावनी तक बनाई गई सीसी रोड व नाली की लागत पांच लाख रुपये से अधिक थी। निर्माण पूरा होने के बाद ही सीसी रोड उखड़ना शुरू हो गया और नालियां पूरी तरह ध्वस्त हो गईं। नाली को ढंकने के लिए भी सीसी रोड का चौका लगाया जाना था, लेकिन अधिकांश चौके पत्थर के लगाए गए। जो सीसी रोड के चौके लगाए भी गए वह कुछ ही दिन में ध्वस्त हो गए। इसके कारण आए दिन लोग नालियों में गिरकर चुटहिल हो रहे हैं। इसी तरह मिर्जापुर रोड से बघेल छावनी तक सड़क का निर्माण कराया गया। इस कार्य की लागत छह लाख रुपये से अधिक थी। इसमें मानक की जमकर अनदेखी की गई। निर्माण पूरा होने के कुछ दिन बाद ही सड़क एक स्थान पर बैठ गई और हल्के बरसात के बाद पूरे सड़क का ड्रामर और गिट्टी पानी में बह गया। इसके साथ बनाई जाने वाली नाली भी मानक के हिसाब से नहीं बनाई गई। हालांकि इन दोनों ठेकेदारों का भुगतान पालिका प्रशासन ने रोक दिया था और निर्माण मानक के हिसाब से कराने का निर्देश दिया था, लेकिन दो साल बीत जाने के बाद भी आज तक कुछ नहीं हुआ। इसी तरह नई बस्ती, पश्चिम मुहाल, अस्पताल के पीछे, कोइरान मुहाल, सिंचाई विभाग के पास आदि स्थानों पर बनी सीसी रोड, सड़क, खड़ंजा व नाली की मानक के विपरीत हैं। नागरिकों ने मनमानी करने वाले ठेकेदारों को ब्लैक लिस्टेड करने के साथ ही निर्माण कार्यों की जांच टीएसी से कराने की मांग की है।
इस संबंध में अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद गोपीगंज संतोष कुमार मिश्र का कहना है कि शिकायत मिलने पर कार्यों की जांच कराई गई थी। इसमें भारी पैमाने पर गड़बड़ी मिली थी। संबंधित ठेकेदारों का भुगतान रोककर कार्य मानक के अनुरूप पूरा कराने का निर्देश दिया गया था, लेकिन ठेकेदारों ने सुधार नहीं कराया। जब तक सुधार नहीं कराया जाएगा तब तक भुगतान नहीं किया जाएगा।
शोपीस बना है पालिका का वाटर कूलर
संवाददाता
गोपीगंज। जीटी रोड बस स्टैंड के पास अस्पताल के गेट के सामने सुलभ शौचालय के बगल में पालिका के की ओर से लगाया गया वाटर कूलर शोपीस साबित हो रहा है। इससे आम नागरिकों सहित यात्रियों को इसका कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है। लोग सिर्फ इसे देखकर ही प्यास बुझाने के लिए बाध्य हैं।
पालिका की इस लापरवाही पर नागरिकों में काफी आक्रोश व्याप्त हो गया है। वाटर कूलर का कोई लाभ नागरिकों और राहगीरों को नहीं मिल पा रहा है। इस भीषण गर्मी में लोग पानी के लिए बेहाल हैं। ऐसे में वाटर कूलर के खराब होने के कारण लोगों में काफी आक्रोश व्याप्त है। नगर पालिका परिषद के सभासद मजहरुल्लाह गुड्डू ने चेतावनी दी है कि यदि अविलंब वाटर कूलर को चालू नहीं किया गया तो नागरिक सड़क पर उतरने के लिए बाध्य हो जाएंगे।

Spotlight

Related Videos

लोकसभा स्पीकर को पसंद नहीं आई राहुल की हरकत, दी ये सलाह

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में भाषण के बाद पीएम नरेंद्र मोदी से गले मिले। राहुल गांधी जैसे ही पीएम मोदी से गले मिले, सोशल मीडिया पर तमाम तरह की प्रतिक्रियाएं आने लगीं।

21 जुलाई 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen