क्या रोबोट इंसान को ग़ुलाम बना लेंगे?

बीबीसी हिंदी Updated Wed, 28 Nov 2012 09:02 AM IST
will robot make human slave
कैंब्रिज विश्वविद्यालय के शोध वैज्ञानिक एक दिलचस्प अध्ययन की तैयारियों में जुटे हैं। इसके तहत यह पता लगाने की कोशिश होगी कि क्या तकनीक के बढ़ते प्रभाव से एक दिन मानव सभ्यता खत्म हो जाएगी। सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ़ एक्सिस्टेंशिअल रिस्क (सीएसईआर) में इस बात पर भी अध्ययन होगा कि बॉयोटेक्नोलॉजी, कृत्रिम जीवन, नैनो टेक्नोलॉजी और जलवायु परिवर्तन से किस कदर ख़तरा बढ़ रहा है।

वैज्ञानिकों ने कहा कि रोबोटों के एक दिन दुनिया में विद्रोह करके इंसानों को अपना ग़ुलाम बना लेने से जुड़ी चिंताओं को ख़ारिज कर देना 'ख़तरनाक' होगा। इस तरह की आशंका हाल की कुछ विज्ञान पर आधारित लोकप्रिय फिक्शन फिल्मों में जताई गई है। ख़ासकर टर्मिनेटर सीरीज़ की फिल्मों के दौरान जिस तरह से स्काइनेट कंप्यूटर सिस्टम को दर्शाया गया है, उससे इन आशंकाओं को बल मिला था।

फ़िल्म में स्काइनेट ऐसा सिस्टम था जिसे अमेरिकी सेना ने विकसित किया था और उसके बाद वह अपनी एक सोच-समझ विकसित कर लेता है। हालांकि यह फिक्शन यानी कल्पना पर आधारित फिल्म थी, इसके बावजूद विशेषज्ञों का कहना है कि इस मुद्दे पर शोध किए जाने की जरूरत है।

रोबोट की अपनी सोच

सेंटर की वेबसाइट पर वैज्ञानिकों ने लिखा है, ''इन ख़तरों की गंभीरता को आंकना बेहद मुश्किल है लेकिन यह चिंतित करने वाला तो ज़रूर है।'' सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ़ एक्सिस्टेंशिअल रिस्क (सीएसईआर) कार्यक्रम को कैंब्रिज विश्वविद्यालय में दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर हाउ प्राइस, ब्रह्मांड विज्ञान और खगोल विज्ञान के प्रोफेसर मार्टिन रीस और स्काइ-पे के सह संस्थापक जान टालीन भी अनुदान मुहैया करा रहे हैं

प्रोफेसर प्राइस ने एएफपी न्यूज़ एजेंसी से कहा, ''यह भविष्यवाणी वाजिब लगती है कि इस या फिर अगली सदी में बुद्धिमत्ता सिर्फ़ जीव विज्ञान तक सीमित नहीं रहेगी। हम इसी दिशा में वैज्ञानिक समुदाय को सजग बनाने की कोशिश करेंगे।'' प्राइस के मुताबिक जैसे-जैसे रोबोट और कंप्यूटर मानव से ज्यादा बुद्धिमान होते जाएँगे हम उन मशीनों के रहमोकरम पर निर्भर हो जाएंगे 'जो हमारे प्रति दुर्भावनापूर्ण तो नहीं होंगी लेकिन जिनके हितों में हम शामिल नहीं होंगे।' मानव सभ्यता के अस्तित्व पर अध्ययन करने वाली इस संस्था की शुरुआत अगले साल होगी।

Spotlight

Most Read

Rest of World

मां बनने वाली हैं न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न, लेंगी छह हफ्ते की छुट्टी

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने घोषणा की है कि वह मां बनने वाली हैं। यह उनका पहला बच्चा होगा।

19 जनवरी 2018

Related Videos

केजरीवाल के सियासी करियर का "काला दिन" समेत शाम की 10 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें दिन में चार बार LIVE देख सकते हैं, हमारे LIVE बुलेटिन्स हैं - यूपी न्यूज सुबह 7 बजे, न्यूज ऑवर दोपहर 1 बजे, यूपी न्यूज शाम 7 बजे

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper