जानें क्यों सऊदी अरब के सियासी महकमे में मची है उथल-पुथल

बीबीसी, हिन्दी Updated Thu, 09 Nov 2017 02:03 PM IST
know what are the reasons which shrinks saudi arabias Political affairs
अरब जगत के सबसे अहम देश और दुनिया की कुल तेल संपदा के एक चौथाई हिस्से पर अधिकार रखने वाले सऊदी अरब का रुढिवादी समाज औचक बदलाव का ना तो हामी है और ना ही आदी। ऐसे में इस दिन जो कुछ हुआ, उसने एकबारगी इस देश और यहां के लोगों को हिला सा दिया। हालांकि, असामान्य सी हलचल को लेकर कुछ लोग अंदेशा लगा चुके थे कि राजधानी रियाद में कुछ खास होने वाला है।
सऊदी अरब में दो बार भारत के राजदूत रहे तलमीज अहमद उस दिन के घटनाक्रम के बारे में कहते हैं, " जब उन्होंने (शाही प्रशासन ने) होटल रिट्स कार्टन खाली करा लिया। तब कुछ लोगों को शुबहा होने लगा था कि आज कुछ होगा। इसके पहले कि आगे कोई कुछ और सोच पाता उन्होंने लोगों को हिरासत में ले लिया। "

पढ़ें: सऊदी अरब: ये प्रिंस अलवलीद बिन तलाल कौन हैं?

हिरासत में लिए गए लोगों में से ज्यादातर हाई प्रोफाइल थे। इनमें 11 शहजादे, चार मंत्री और कई पूर्व मंत्री थे। ये कार्रवाई भ्रष्टाचार रोधी कमेटी के कहने पर हुई। बेशुमार अधिकार रखने वाली इस कमेटी का गठन सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज ने शनिवार यानी 4 नवंबर को ही किया और इसका चेयरमैन क्राउनप्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को बनाया गया।
आगे पढ़ें

Spotlight

Most Read

Gulf Countries

ईरान: तेहरान से युसज जा रहा प्लेन हादसे का शिकार, 66 लोगों की मौत

66 यात्रियों से भरा हुआ ईरानी यात्री विमान क्रैश हो गया है।

18 फरवरी 2018

Related Videos

सोशल मीडिया पर छाई, बहन-भाई की लड़ाई

सोशल मीडिया पर भाई-बहन का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दोनों लोग एक दूसरे से झगड़ते नजर आ रहे हैं। ये वीडियो काफी पसंद किया जा रहा है...

21 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen