विज्ञापन
विज्ञापन

नाइजीरिया से अगवा पाँच भारतीय छूटे

Avanish Pathakअवनीश पाठक Updated Sun, 27 Jan 2013 11:37 AM IST
kidnappers released five Indian in nigeria
ख़बर सुनें
नाइजीरिया में उन पांच भारतीय नाविकों को रिहा कर दिया गया है जिन्हें नाइजीरिया के तट पर पिछले महीने उनके जहाज़ पर आक्रमण करके जलदस्युओं ने बंदी बना लिया था।
विज्ञापन
ये नाविक जिस जहाज़ के कर्मचारी थे उसे संचालित करने वाली कंपनी ने एक बयान जारी करके ये सूचना दी है।

सोमाली लुटेरों ने गत 17 दिसंबर को तेल और रसायन लेकर जा रहे एसपी ब्रसेल्स नाम के इस जहाज़ को लूट लिया था। ये घटना नाइजर डेल्टा के पास हुई थी जो कि अफ्रीका के सबसे बड़े ऊर्जा उद्योग के रूप में जाना जाता है।

कंपनी ने अपने बयान में कहा है, “चालक दल के पांच सदस्यों को, जिनका सशस्त्र लोगों ने अपहरण कर लिया था, उन्हें रिहा कर दिया गया है। सभी पांच लोग स्वस्थ हैं।”

इन लोगों की रिहाई कैसे हुई और किन परिस्थितियों में हुई, इस बारे में कोई विस्तृत जानकारी नहीं मिल सकी है। लेकिन इससे पहले ऐसी घटनाओं में जब भी रिहाई हुई है तो उसमें फिरौती दी गई है।

नाइजीरिया के तेल उत्पादक इस इलाके में और तटीय क्षेत्र में अपहरण की घटनाएं बहुत ही आम हैं।

कुआलालंपुर स्थित अंतरराष्ट्रीय मेरीटाइम ब्यूरो के प्रमुख नोएल चूंग ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि साल 2012 में खाड़ी क्षेत्र में अपहरण की कम से कम 51 घटनाएं हुई हैं और सोमालिया के बाद जहाजों के लिए ये इलाका सबसे खतरनाक बन गया है।

दरअसल नाइजीरिया जहाजों के लिए बेहद व्यस्त मार्ग है। ये पश्चिम अफ्रीकी देश दुनिया के दस सबसे बड़े कच्चे तेल के निर्यातक देशों में से एक है। लेकिन यहां तेल शोधन सुविधा सही न होने की वजह से नाइजीरिया को अपनी कुल जरूरतों का अस्सी प्रतिशत ईंधन आयात करना पड़ता है।
विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Rest of World

इस शख्स की वजह से आया वीडियो का वजूद

आज हम आपको उस शख्स के बारे में बता रहे हैं, जिनकी खोज के कारण हम आज कोई भी वीडियो देख पा रहे हैं। उस शख्स का नाम है जोसेफ एंटोइन फर्डिनेंड प्लेटू। जोसेफ प्लेटू एक बेल्जियन भौतिकशास्त्री यानी Physicist थे।

14 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

आंखों से रोशनी जाने पर भी नहीं टूटे सपने, कानपुर के अवधेश कुमार ने पास की पीसीएस परीक्षा

चार साल पहले एक बीमारी की वजह से कानपुर के अवधेश कुमार कौशल की आंखों की रोशनी चली गई, मगर उन्होंने हार नहीं मानी और कड़ी मेहनत और जुनून से पीसीएस अधिकारी बनकर ही माने।

14 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree