जमैका के मार्लन जेम्स को 2015 का मैन बुकर पुरस्कार

abhishek tandonअभिषेक टंडन Updated Fri, 16 Oct 2015 01:24 AM IST
विज्ञापन
Booker goes to James of Jamaica

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
अपने उपन्यासों के जरिए गैंगेस्टरों की स्याह दुनिया की परतें उघाड़ने वाले कैरेबियाई देश जमैका के लेखक मार्लंन जेम्स को 2015 का प्रतिष्ठित मैन बुकर पुरस्कार दिया गया है।
विज्ञापन

मार्लन ने भारतीय मूल के ब्रिटिश उपन्यासकार संजीव सहोता समेत पांच लेखकों को पछाड़ते हुए यह पुरस्कार अपने नाम किया है। उनको ‘ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ सेवेन किलिंग्स’ नामक उपन्यास के लिए यह पुरस्कार दिया गया है। मैन बुकर प्राइज पाने वाले जेम्स पहले जमैका लेखक है।
जेम्स का यह उपन्यास रेगे सिंगर बॉब मार्ले की हत्या की कोशिश की वास्तविक घटनाओं के इर्द गिर्द घूमता है। उपन्यास में 1970 और 1980 के दशक में जमैका की राजनीति और वहां के गैंगवार को बखूबी चित्रित किया गया।
वर्तमान में अमेरिका के मिनीपोलिस में रह रहे 44 वर्षीय जेम्स ने कहा कि यह पुरस्कार पाना उनके लिए एक सपने जैसा है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

पुरस्कार के रूप में मिले 50 लाख रुपये

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us