बॉलीवुड सितारों का पाकिस्तान कनेक्शन

बीबीसी हिंदी/एम इलियास ख़ान Updated Mon, 03 Dec 2012 09:49 AM IST
bollywood actors pakistan connection
बॉलीवुड के बारे में मामूली सी जानकारी रखने वाले शख्स को भी पता है कि दिलीप कुमार, राज कपूर और शाहरुख खान कितने बड़े स्टार हैं।

लेकिन इनके बारे में एक बात शायद ज्यादा लोगों को न पता हो। तीनों का नाता पाकिस्तान के पेशावर शहर से रहा है, जिसे आज आम तौर पर चरमपंथ और कट्टरपंथ के लिए जाना जाता है।

पेशावर के ढक्की इलाके की सबसे मशहूर गली है किस्सा ख्वानी जहां आज भी दिलीप कुमार, शाहरुख खान और राज कपूर के पूर्वजों के घर मौजूद हैं।

राज कपूर के पिता पृथ्वीराज कपूर जब फिल्मों में आए तो वो खुद को पेशावर का 'हिंदू पठान' कहते थे। वो बेहद कामयाब रहे और उनकी चौथी पीढ़ी आज फिल्मों सक्रिय है और बहुत कामयाब है।

तीन मंजिला इस मकान की हालत आज बहुत खराब है और वहां कोई नहीं रहता लेकिन कपूर परिवार की यादें अब वहां जिंदा हैं।

गुल्ली डंडा कपूर
स्थानीय निवासी 90 वर्षीय मोहम्मद याकूब बताते हैं कि राज कपूर गुल्ली डंडा के बहुत शौकीन थे। यादों को टटोलते हुए वो कहते हैं, “1920 के दशक की बात है। वो मेरा यार था। वो मुझसे एक साल छोटा था। हम लोग गुल्ली डंडा खेला करते थे। हम एक ही स्कूल में पढ़ने जाते थे।”

कपूर परिवार 1930 के दशक में मुंबई चला गया। याकूब बताते हैं कि इसके बाद वो कभी कभी पेशावर आया करते थे लेकिन विभाजन के बाद ये सिलसिला बंद ही हो गया।

कपूर परिवार की हवेली से थोड़ी सी ही दूरी पर बॉलीवुड के महान अभिनेता दिलीप कुमार का घर आ जाता है। इसकी भी हालत बहुत ही खराब है। दरवाजों और खिड़कियों पर लकड़ी का नक्काशीदार काम दिखता है लेकिन हर जगह मकड़ी के जाले लगे हुए हैं।

फिलहाल इस जगह का इस्तेमाल कपड़ों के एक गोदाम के रूप में किया जा रहा है। यहां काम करने वाले मलियार का कहना है, “ये बड़े ही फख्र की बात है कि यहां से शुरूआत करने वाले लोगों ने दुनिया भर में इतना नाम कमाया। ये एक ऐतिहासिक जगह है जो अब एक गोदाम है और अब मैं यहां काम करता हूं।”

शाहरुख का घर
दिलीप कुमार और राज कपूर तो गुज़रे जमाने के स्टार रहे हैं लेकिन बॉलीवुड के मौजूदा सुपरस्टार शाहरुख खान का भी पेशावर से नाता है। दिलीप कुमार के घर से तीन मिनट चलने पर एक व्यस्त गली में शाहरुख खान के पूर्वजों का घर है।

शाहरुख के पिता ताज मोहम्मद खान का जन्म और परवरिश यहीं हुई। खुद शाहरुख भी किशोरावस्था में यहां कुछ दिन गुजार चुके हैं। उनका जन्म तो दिल्ली में हुआ लेकिन वो अपने रिश्तेदारों से मिलने आए थे।

उनकी रिश्ते की एक बहन नूर जहां अब भी इस घर में रहती हैं। वो शाहरुख से मिलने दो बार मुंबई जा चुकी हैं और आखिरी बार 2010 में वो वहां गई थीं।

वो बताती हैं, “जहां हम बैठे हुए हैं, वो इसी कमरे में सोते थे।” ये बात 1978 से 1979 के बीच है जब शाहरुख खान दो बार पेशावर आए थे।

नूर जहां बताती हैं, “उन्हें यहां आकर बहुत अच्छा लगा क्योंकि पहली बार वो अपने पिता के परिवार से मिले थे। भारत में सिर्फ उनकी मां के परिवार वाले लोग रहते थे।”

मामू का वादा
नूर जहां के 12 वर्षीय बेटे का नाम भी शाहरुख खान रखा है और वो उसे शाहरुख खान2 पुकारती हैं। नूर जहां का बेटा का कहता है, “मामू ने वादा किया है कि अगर मैं बड़ा हो कर अच्छा क्रिकेटर बनूंगा तो वो मुझे अपनी टीम में शामिल करेंगे।”

शाहरुख खान आईपीएल की कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के मालिक हैं। पेशावर से और भी कई बॉलीवुड की हस्तियों का नाता है जिनमें मधुबाला, अमजद खान, विनोद खन्ना, अनिल कपूर के पिता और जाने माने फिल्म निर्माता सुरिंदर कपूर शामिल हैं।

पेशावर में इन सभी कलाकारों के घरों को सहेजने की अपीलें की जाती रही हैं। लेकिन इस दिशा में की गई अभी तक की कोशिशों को कोई खास नतीजा नहीं निकला है।

Spotlight

Most Read

Rest of World

प्राग: होटल में आग लगने से अब तक चार की मौत

यूरोस्टार डेविड होटल में आग लगने से मरने वालों की संख्या चार हो गई है। इस घटना में करीब एक दर्जन लोग घयाल हुए हैं जिनका अभी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

राजधानी में बेखौफ बदमाश, दिनदहाड़े घर में घुसकर महिला का कत्ल

यूपी में बदमाशों का कहर जारी है। ग्रामीण क्षेत्रों को तो छोड़ ही दीजिए, राजधानी में भी लोग सुरक्षित नहीं हैं। शनिवार दोपहर बदमाशों ने लखनऊ में हार्डवेयर कारोबारी की पत्नी की दिनदहाड़े घर में घुस कर हत्या कर दी।

21 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper