विज्ञापन

पाकिस्तान से लगी ईरान सीमा पर आतंकी हमला, तीन आतंकी ढेर

एजेंसी, तेहरान Updated Tue, 17 Apr 2018 06:53 PM IST
Three terrorists killed in terror attack on pakistan Iran border
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पाकिस्तान से लगी ईरान सीमा पर मंगलवार को तड़के सुबह ईरानी सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस कार्रवाई में तीन आतंकी मार गिराए गए। वहीं ईरानी सेना के भी तीन जवानों की मौत हो गई।
विज्ञापन
ईरान के सरकारी न्यूज एजेंसी आईआरएनए ने घटना की जानकारी दी। स्थानीय समयानुसार, मंगलवार को तड़के 1:30 बजे पाकिस्तान के एक आतंकी समूह ने सीमाई इलाके मिरजावेह की पुलिस चौकी पर हमला कर दिया। इस मुठभेड़ में तीन आतंकी मार गिराए गए। 

वहीं एक पुलिस अधिकारी और रिवाल्यूशनरी गॉर्ड्स के दो सदस्यों की भी मौत हो गई। पूर्व में ईरान आतंकी समूह जैश अल-अद्ल के समर्थन के लिए पाकिस्तान की आलोचना कर चुका है। ईरान जैश अल-अद्ल पर आतंकी समूह अल कायदा से संबंध रखने और एक प्रांत सिस्तन-बलूचिस्तान में कई हमले करने का आरोप लगाता रहा है।

बता दें कि 90 फीसदी शिया और दो तिहाई पारसी समुदाय वाले ईरान के इस अशांत प्रांत में सुन्नी और बलूच जातीय के लोग रहते हैं जो कि बेहद गरीब हैं।


 लंबे समय तक उग्रवाद से प्रभावित रहा है प्रांत :
साल 2005 से 2010 के बीच सिस्तन-बलूचिस्तान प्रांत लंबे समय तक उग्रवाद से प्रभावित रहा। इस उग्रवाद के लिए बलूची-सुन्नी जिहादिस्ट समूह ‘जुंदल्लाह’ जिम्मेदार था। इसका मतलब होता है ‘अल्लाह के सैनिक’। हालांकि साल 2010 में इसके सरगना की मौत के बाद हिंसा पर काफी हद तक काबू पा लिया गया।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Gulf Countries

खशोगी की हत्या के खुलासे पर हर तरफ से घिरा सऊदी अरब

करीब दो सप्ताह बाद सऊदी अरब ने पत्रकार जमाल खशोगी पर जुबान खोली थी, लेकिन अपने इस्तांबुल स्थित वाणिज्य दूतावास में खशोगी की मौत के कथित तरीके को लेकर सऊदी अरब ताज्जुब भरे सामूहिक सवालों से घिर गया है।

22 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: क्या बस्तर में फिर बाजी मार पाएगी भाजपा

छत्तीसगढ़ का बस्तर जिला देश का सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित क्षेत्र माना जाता है, बात राजनीति की करें तो यह जिला काफी महत्वपूर्ण भी है। इस क्षेत्र में भाजपा अपना भाग्य बदलने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक रही है।

22 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree