विरोधाभासों के बीच बीजिंग में मिली दो महाशक्तियां, कई विवादित मुद्दों पर भी होगी बातचीत

टीम डिजिटल अमर उजाला Updated Thu, 09 Nov 2017 09:04 AM IST
china and america meeting held in beijing despite of dispute between the both nations
पूंजीपति देश अमेरिका के राष्ट्रपति का कम्युनिस्ट मुल्क चीन में स्वागत होना भले ही दुनिया की समझ से परे हो, लेकिन बीजिंग के ऐतिहासिक पैलेस म्यूजियम चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग व उनकी पत्नी पेंग लियुआन द्वारा ट्रंप और मिलानिया के जोरदार स्वागत का गवाह बना। हालांकि दोनों देशों के बीच कई विरोधाभासी मुद्दे हैं जिन पर दो महाशक्तियों के बीच चर्चा होनी है लेकिन दोनों के बीच समझौतों की रूपरेखा भी तय हो चुकी है। इनमें बड़े कारोबारी समझौते और कुछ वैश्विक कूटनीति से जुड़े मसले शामिल हैं। 
चीन के फारबिडन शहर में दोनों नेताओं ने भले ही चाय की चुस्कियां लेते हुए अपने एजेंडे की शुरूआती चर्चा मीठे अंदाज में की हो, लेकिन दुनिया की निगाहें उन विवादास्पद मसलों पर जमी हुई हैं जो पूंजीवाद और साम्यवाद के बीच स्वाभाविक खाई बनाए हुए हैं। इनमें अमेरिका के भीतर चीन का कारोबार, चीन में अमेरिकी व्यवसायियों को स्वतंत्र ट्रेड सुविधा और उत्तरी कोरिया की परमाणु नीति पर दबाव बनाना शामिल है। इनके अलावा हिंद-प्रशांत महासागर और दक्षिण सागर में कारोबारी रास्तों की मौजूदगी पर अधिकार को लेकर भी दोनों महाशक्तियों के बीच कुछ समझौतों की उम्मीद की जा रही हैं, जो बेहद ही संवेदनशील और विवादास्पद हैं।

पढ़ें: अमेरिका के साथ नये रिश्ते तलाश रहा चीन, ट्रंप के स्वागत की तैयारी में जुटा

ट्रंप यहां तीन दिन की यात्रा पर हैं और उनके साथ बोइंग, गोल्डमैन साक्स, वेस्टिंगहाउस इलेक्ट्रिक और क्वालकॉम जैसी दिग्गज कंपनियों के शीर्ष अधिकारी भी इन्हीं समझौतों को लेकर मौजूद हैं। इससे पहले गत सप्ताह फेसबुक के मार्क जुकरबर्ग, एप्पल के टिम कुक और माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला भी शी जिनपिंग के साथ दिखाई दिए।

इसका सीधा मतलब है कि अमेरिका किसी भी तरह चीन के बाजार में घुसना चाहता है, जबकि अपने देश में चीनी कंपनियों के लिए स्वतंत्र कारोबारी रास्ते रोकना चाहता है। इसलिए चीन विरोधी रुख के बावजूद ट्रंप पर चीन के साथ समझौतों के लिए दबाव है। जबकि चीन पर भी दुनिया में ओबोर पहल और कारोबार बढ़ाने का दबाव है। इसलिए दोनों के बीच समझौते महत्वपूर्ण हैं।
आगे पढ़ें

बेमेल है दोनों नेताओं की जोड़ी

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Spotlight

Most Read

China

तिब्बत में पुलिस ने दलाई लामा के समर्थकों से लोगों को सचेत रहने को कहा

एक अखबार के मुताबिक चीन ने दलाई लामा के समर्थकों को अलगाववादी और क्रिमनल करार दिया हुआ है।

13 फरवरी 2018

Related Videos

दुनिया के अनोखे स्मार्टफोन, देखकर नहीं होगा विश्वास

स्मार्टफोन तो बहुत देखे होंगे जो कई सुविधाओं से लैस भी होंगे लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे फोन के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके बारे में न तो आपने पहले सुना होगा और न ही देखा होगा।

19 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen