पूर्वी अफगानिस्तान में आत्मघाती हमला, एक की मौत, 20 लोग घायल

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, काबुल Published by: गौरव पाण्डेय Updated Sun, 02 Aug 2020 10:27 PM IST
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
विज्ञापन
ख़बर सुनें
अफगानिस्तान के पूर्वी हिस्से में रविवार को आत्मघाती कार बम हमलावर और कई बंदूकधारियों के हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 20 अन्य घायल हो गए। नांगरहार प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता अताउल्ला खोगयानी ने बताया कि प्रांतीय राजधानी जलालाबाद में रविवार शाम तक अफगान सुरक्षाबलों और चरमपंथियों के बीच मुठभेड़ जारी थी और हताहतों की संख्या बढ़ने की आशंका है।
विज्ञापन


प्रांतीय परिषद के सदस्य अजमल उमर और गृह मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक अरियन ने भी हमले की पुष्टि की है। अभी तक किसी ने भी इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। वैसे पूर्वी अफगानिस्तान में तालिबान और इस्लामिक स्टेट से संबद्ध स्थानीय संगठन सक्रिय है। आईएस से संबद्ध संगठन का मुख्यालय नांगरहार प्रांत में है।

इस्लामिक स्टेट खुरासान के खुफिया प्रमुख को मार गिराया

अफगानिस्तान की सुरक्षा एजेंसी ने कहा कि उसने पूर्वी अफगानिस्तान के जलालाबाद शहर में विशेष बलों ने इस्लामिक स्टेट की खुरासान इकाई से जुड़े पाकिस्तानी मूल के एक शीर्ष आतंकवादी को मार गिराया है। वह आतंकवादी संगठन का खुफिया प्रमुख था। राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) ने शनिवार देर रात एक बयान में कहा कि जिया उर रहमान उर्फ असदुल्लाह ओरकजई इस्लामिक स्टेट की खुरासान इकाई का खुफिया प्रमुख था। जलालाबाद के पास उसे मार गिराया गया।

ओरकजई इस्लामिक स्टेट की खुरासान शाखा का खुफिया प्रमुख था, जो दक्षिण एशिया और मध्य एशिया में सक्रिय है। ‘टोलो न्यूज’ ने बयान का हवाला देते हुए खबर दी, ‘राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय की विशेष इकाई ने असदुल्ला ओरकजई को एक विशेष अभियान में मार गिराया है। वह पाकिस्तान की अखेल ओरकजाई एजेंसी का रहने वाला था।’ ओरकजई अफगानिस्तान में सेना और नागरिकों को निशाना बनाकर किए कई अनेक घातक हमलों में शामिल था।

संयुक्त राष्ट्र ने गत सप्ताह अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि अफगानिस्तान में साल के पहले छह महीने में पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले हिंसा में नागरिकों के मारे जाने व घायल होने की संख्या में 13 फीसदी की गिरावट आई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 के पहले छह महीनों के दौरान आईएस के 17 हमले दर्ज हुए जबकि पिछले साल इस अवधि के दौरान 97 हमले हुए थे। यहां 2020 के पहले छह महीनों में हिंसा में 1,282 लोगों की मौत हुई और 2,176 लोग घायल हुए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00