विज्ञापन
Home ›   Video ›   Smart Beti ›   story of smart beti anjali rao unicef

आशा ट्रेनिंग ने आंखें खोलीं अब रोकती हैं बाल विवाह

अमर उजाला ब्यूरो, श्रावस्ती Updated Fri, 23 Nov 2018 06:32 PM IST

अंजलि राव ने अगर तीन साल पहले आशा बहू की ट्रेनिंग न ली होती तो आज वह एक साधारण गृहिणी होतीं। लेकिन आज वे न सिर्फ अपना घर अच्छे से संभालती हैं, बल्कि आसपास के गांवों में भी परिवारों को बाल विवाह करने से रोकती हैं। 

विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00