विज्ञापन
विज्ञापन

योग-ध्यान: कुछ मिनटों का योग ध्यान फिर पूरा दिन आराम

धर्म डेस्क, अमर उजाला Updated Fri, 26 Oct 2018 11:06 AM IST
योग ध्यान
योग ध्यान
ख़बर सुनें
कुछ मिनटों का ध्यान घंटों तक किए विश्राम के बराबर ताजगी भर देता है। अब विज्ञान भी मानने लगा है कि ध्यान से व्यक्ति के इर्द-गिर्द एक अदृश्य कवच बनता है। वह कवच उसे वातावरण में छाए संक्रमणों से बचाता है। हार्वर्ड विश्वविद्यालय में कार्डियो फेकल्टी में शोध निदेशक डॉ. हर्बर्ट वेनसन के मुताबिक, नियमपूर्वक बीस मिनट प्रतिदिन ध्यान किया जाए, तो शरीर में ऐसे बदलाव आने लगते हैं कि शरीर रोग और तनाव के कई आक्रमणों का मुकाबला करने लगता है। शोध के दौरान वह हृदय तंत्र की कार्य विधि और संवेगों के पारस्परिक संबंधों का अध्ययन करते हुए ध्यान की ओर आकर्षित हुए। उन्होंने अपने सहयोगी डॉ. वैलेस और उनकी टीम के साथ 1862 व्यक्तियों का परीक्षण किया, जो नियमित रूप से ध्यान करते थे। अध्ययन के निष्कर्षों में उन्होंने पाया कि ध्यान के कारण त्वचा में अवरोध क्षमता की वृद्धि होती है। ध्यान में तीन मिनट के भीतर ही ऑक्सीजन की खपत दर में 16 फीसदी कमी आ जाती है। जबकि पांच घंटे की नींद में केवल आठ फीसदी की ही कमी आती है।
विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय
Invertis university

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Festivals

29 सितंबर से शक्ति आराधना का पर्व नवरात्रि आरम्भ, जानें पूरी पूजा विधि

आश्विन शुक्ल प्रतिपदा नवरात्र का शुभारम्भ 29 सितंबर को आरंभ हो रहा है। मां की उपासना सभी प्राणी अपने परिवार को भी त्रिबिध तापों दैहिक, दैविक और भौतिक से मुक्ति दिला सकते हैं । संसार में सबसे सरल उपासना या तो माता शक्ति की है या भगवान शिव की है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन

अमेरिका पहुंचे इमरान को रिसीव करने नहीं पहुंचा कोई अमेरिकी अफसर, PM मोदी के लिए रेड कार्पेट

पीएम मोदी को अमेरिका में जितना सम्मान मिला। जबकि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर रिसीव करने कोई अमेरिकी अधिकारी तक नहीं पहुंचा। ह्यूस्टन में हाउडी मोदी को लेकर लोगों में गजब का उत्साह है।

22 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree