विज्ञापन

योग-ध्यान: मानना पड़ेगा बिना योग गुजारा नहीं

रामचंद्र शर्मा Updated Fri, 06 Jul 2018 11:45 AM IST
yoga day chanting om
yoga day chanting om
विज्ञापन
ख़बर सुनें
योग और ध्यान भारतीय जीवनशैली का अभिन्न अंग रहे हैं। परंतु अंग्रेजी शब्दकोश में यह शब्द जिस मनीषी की देन है उनका नाम है परमहंस योगानंद। यह वही पुस्तक है, जो एप्पल के संस्थापक स्टीव जाॅब्स के कंप्यूटर में मिली थी। पुस्तक उनकी सर्विस में आए लोगों को बांटी गई। 45 भाषाओं में अनुवादित (12 भारतीय और दुनिया की 33 भाषाएं) इस पुस्तक ने विश्व को योग से परिचय कराने और उसे लोकप्रिय बनाने में बड़ा योगदान दिया है। योग को शब्दकोश के रास्ते विश्व मंच पर पहुंचने मे लगभग सदी लग गई।
विज्ञापन
तीन साल पहले 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मना। अभी केवल योग को मान्यता मिली है, अवरोध और विरोध समय के साथ ही छटेंगे और घटेंगे। मानसिक व्यथाओं का मारा मनुष्य जान ही जाएगा कि योग बिन गुजारा नही। जिस दिन मनुष्य आज की भौतिक सुविधाओं की भांति योग का भी आदी हो जाएगा। सही मायने में तभी योग के विश्व मंच से विश्वव्यापी होने तक की चरम परिणित होगी। योग की अन्य धाराओं ने भी समाज में अपना योगदान दिया है।

यह मात्र एक विद्या नहीं है, व्यायाम या साधना नहीं है। यह एक पूरी संस्कृति है। सदियों से हमारे जीवन का महत्वपूर्ण अंग रही, इस विद्या को अब लोग मानने लगे हैं। अपनाने लगे हैं। अपनाना तो पड़ेगा। योग शक्ति को मानना भी पड़ेगा। बिना इसके स्वस्थ और संस्कारी जीवन जीना संभव ही नहीं है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Yog-Dhyan

हठ योग : अगर कोई अंग कमज़ोर हो तो क्या करें?

कई बार हमारे शरीर का कोई अंग हमारी ईच्छा अनुसार काम नहीं करता या उसमें संवेदनाएँ महसूस नहीं की जा सकतीं। ऐसे में कैसे करें साधना और कैसे करें उसका उपचार?

24 अगस्त 2018

विज्ञापन

Related Videos

अजय देवगन ने ट्विटर पर डाला काजोल का WhatsApp नंबर, फैंस ने किए ऐसे मैसेज

एक्टर अजय देवगन अपनी एक अजीबोगरीब हरकत के बाद सोशल मीडिया पर चर्चा में आ गए। दरअसल उन्होंने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से अपनी पत्नी और एक्ट्रेस काजोल का WhatsApp नंबर शेयर कर दिया।

25 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree