मौत से पूर्व के यह अनुभव जानकर हैरान रह जाएंगे आप

राकेश झा/ टीम डिजिटल, दिल्ली Updated Mon, 03 Feb 2014 03:02 PM IST
death experience before die
संसार का सबसे बड़ा रहस्य है मौत। और इससे भी बड़ा रहस्य है मौत के पहले के अनुभव। इस विषय पर कुछ ऐसे शोध हुए है जो बताते हैं कि मरने से पहले हर व्यक्ति को पता चल जाता है कि उसकी मौत की घड़ी आ पहुंची है।

इस रहस्य पर से सबसे पहले पर्दा उठाने का श्रेय अमेरिका की मनोचिकित्सक डॉ. एलिजाबेथ कुबलर-रॉस को जाता है। इन्होंने मौत के करीब पहुंचने वाले व्यक्तियों से उनके अनुभव और भावनाओं के बारे में पूछने का साहस किया।

इनके इस व्यवहार के कारण शिकागो के जिस अस्पताल में यह कार्यरत थी, काफी हंगामा हुआ। इसके बावजूद इन्होंने अपने खोज जारी रखे।

इन्होंने अपनी पुस्तक 'ऑन डेथ एंड डाइंग' में मौत के करीब पहुंच चुके लोगों के अनुभवों का जिक्र किया है। हाल के वर्षों में चिकित्सा विज्ञान में जिस तरह से प्रगति हुई उसमें हार्ट अटैक और दूसरे गंभीर रोगों से मौत के करीब पहुंच चुके लोगों को भी कई बार बचा लिया जाता है।

पढ़ें, इन लोगों ने मरने से पहले ही बता दिया था कब मरने वाले हैं

  • मौत के मुंह से निकलकर वापस आने वाले लोग बताते हैं मौत के करीब जाने पर अचानक चेतना शून्य हो जाती है। स्वयं मरे हुए लोगों के बीच होने का एहसास होता है।
  • परिवार में जिन लोगों की मौत हो चुकी है, उनके अपने आस-पास होने की अनुभूति होती है।
  • जीवन में हुई घटनाएं किसी चलचित्र की तरह आंखों के सामने चल रही होती है। शरीर से बाहर हवा में तैरते हुए आसपास के क्षेत्र को देखने का अनुभव होता है।
  • अंधेरे सुरंग से होते हुए किसी ऐसे स्थान पर पहुंचने का अनुभव होता है जहां सूर्य से भी तेज प्रकाश फैला हुआ है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all spirituality news in Hindi related to religion, festivals, yoga, wellness etc. Stay updated with us for all breaking news from fashion and more Hindi News.

Spotlight

Most Read

Metaphysical

जानिए तंत्र साधना से जुड़े कुछ रहस्यों के बारे में

चार किताबें पढ़कर खुद ही तंत्र साधना शुरू करना चाहें, तो इसका बुरा परिणाम हो सकता है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

दावोस पीएम मोदी की तारीफ में सुपरस्टार शाहरुख खान ने पढ़े कसीदे

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls