विज्ञापन
विज्ञापन

हिमाचल में जेओए और जेई समेत 10 पोस्ट कोड की परीक्षाओं का शेड्यूल जारी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हमीरपुर Updated Thu, 12 Sep 2019 06:17 PM IST
hpssc released schedule of 10 post code exams including JOA and JE
- फोटो : Image Caption Hindi exam shimla
ख़बर सुनें
हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने 10 विभिन्न पोस्ट कोड के तहत होने वाली छंटनी परीक्षाओं का शेड्यूल जारी कर दिया है। जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (जेओए) और जेई समेत 10 पोस्ट कोड की परीक्षाएं 12 अक्तूबर से होंगी। पोस्ट कोड 709 क्लर्क और लेखाकार की परीक्षा 12 अक्तूबर को सुबह के सत्र में, पोस्ट कोड 715 जूनियर इंजीनियर इलेक्ट्रिकल सायंकालीन सत्र में होगी।
विज्ञापन
पोस्ट कोड 712 इलेक्ट्रिशियन एवं सब स्टेशन अटेंडेंट की परीक्षा 13 अक्तूबर को सुबह और पोस्ट कोड 714 जूनियर इंजीनियर सिविल की परीक्षा सायंकालीन सत्र में होगी। पोस्ट कोड 723 जूनियर ऑफिस असिस्टेंट की परीक्षा 20 अक्तूबर को सुबह तथा पोस्ट कोड 738 फिटर की परीक्षा सायंकालीन सत्र में होगी।

पोस्ट कोड 702 ग्रेड एक पब्लिसिटी असिस्टेंट की परीक्षा तीन नवंबर को सुबह, पोस्ट कोड 675 ग्रेड दो पब्लिसिटी असिस्टेंट की परीक्षा पांच नवंबर को सुबह, पोस्ट कोड 734 डिस्पेंसर की परीक्षा सायंकालीन सत्र में, जबकि पोस्ट कोड 742 तकनीकी सहायक की परीक्षा छह नवंबर को सुबह के सत्र में होगी। आयोग के सचिव डॉ. जितेंद्र कंवर ने बताया कि परीक्षा से पंद्रह दिन सभी अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।
विज्ञापन

Recommended

डिजिटल मीडिया में करियर की संभावनाओं पर नि:शुल्क काउंसलिंग का आयोजन
TAMS

डिजिटल मीडिया में करियर की संभावनाओं पर नि:शुल्क काउंसलिंग का आयोजन

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Lucknow

जनाब चौंकिए नहीं! ये तस्वीरें किसी भूतिया बंगले की नहीं बल्कि आर्ट्स कॉलेज की हैं

लखनऊ विश्वविद्यालय के अंतर्गत आर्ट्स कॉलेज की स्थापना की गई थी। ये जो तस्वीरें आप देख रहे हैं, पिछले साल आर्ट्स कॉलेज के छात्र पूर्णेश कुमार ने परिसर में बेकार पड़ी वस्तुओं से कड़ी मेहनत कर इन कृतियों को बनाया था।

18 सितंबर 2019

विज्ञापन

गलती से हो गया था इन अहम चीजों का आविष्कार

आविष्कार सोच समझकर किये जाते हैं, जिससे आम लोगों को कुछ फायदा हो। लेकिन कभी कभी कुछ आविष्कार गलती से हो जाते हैं मतलब जिनके लिए ज्यादा मेहनत नहीं की गई बल्कि वो अनजाने में ही हो गए। आज हम आपको ऐसे ही एक्सीडेंटल एक्सपेरिमेंट के बारे में बताएंगे।

18 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree