विज्ञापन

कृषि क्षेत्र में भविष्य संवारने को परीक्षा में बैठे 10 हजार

विनोद राणा/अमर उजाला, पालमपुर (कांगड़ा) Updated Mon, 05 Jun 2017 11:37 AM IST
Bsc Agriculture entrance exam in himachal
ख़बर सुनें
कृषि क्षेत्र में भविष्य संवारने के लिए कृषि विवि पालमपुर की प्रवेश परीक्षा में 10 हजार से अधिक युवाओं ने भाग लिया। रविवार को प्रदेश के विभिन्न परीक्षा केंद्रों में विभिन्न कोर्सों के लिए प्रवेश परीक्षा हुई। इसके माध्यम से छात्रों को एग्रीकल्चर साइंस और पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी में प्रवेश मिलेगा। 
विज्ञापन
विज्ञापन
एग्रीकल्चर बीएससी और पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी 161 सीटों के लिए यह परीक्षा हुई। यह परीक्षा प्रदेश भर के प्रमुख शहरों में तीस सेंटरों पर हुई। कृषि विवि पालमपुर में बीएससी एग्रीकल्चर और पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी में प्रवेश पाने के लिए छात्र सुबह से सेंटरों के बाहर जमा हो गए। 

पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी में 161 सीटों के लिए प्रदेश भर से करीब दस हजार छात्रों ने परीक्षा दी। अब परीक्षा में मेरिट के आधार पर छात्रों को प्रवेश मिलेगा। प्रवेश परीक्षा के लिए करीब तेरह हजार से अधिक छात्रों ने आवेदन किया था। पहले यह परीक्षा जमा दो के मेरिट आधार पर होती थी, लेकिन करीब छह साल पहले से यह परीक्षा ओपन टेस्ट के माध्यम से हो रही है। 

इसका परिणाम करीब एक से डेढ़ महीने के अंदर निकल जाएगा। हालांकि, कृषि विवि में प्रवेश पाने के लिए प्रवेश परीक्षा परिणाम मेरिट के हिसाब से ही बनेगा, लेकिन इसमें भी एससी, एक्स सर्विसमैन और स्पोर्ट्स मैन आदि का कोटा होगा। 

विवि में अभी होम साइंस और बेसिक साइंस में प्रवेश अभी भी जमा दो की मेरिट पर किया जाता है। उधर, कृषि विवि पालमपुर के संयुक्त निदेशक (सूचना एवं जनसंपर्क) डॉ. हृदय पाल सिंह प्रदेश भर में यह परीक्षा ली गई है। इसका परिणाम एक से डेढ़ महीने का समय लेगा।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें मात्र ₹1100 में
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें मात्र ₹1100 में

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

बड़ा फैसलाः खुश हो जाएं छात्र, अब जितना सही होगा उत्तर उतने के भी मिलेंगे अंक

हरियाणा में स्कूली परीक्षाओं का मूल्यांकन सीबीएसई के पैटर्न पर होगा। इससे परीक्षार्थी ने प्रश्न का जितना भी सही उत्तर लिखा है, उसके अंक मिल सकेंगे।

16 जनवरी 2019

विज्ञापन

5 साल, 50 बयान | मणिशंकर अय्यर के चाय वाले बयान ने कैसे मोदी को मुंहमांगी मुराद दे दी

पूरे पांच साल हो गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुंह से चाय की बात सुनते। कभी-कभी कुछ चीजें इतनी मशहूर हो जाती हैं कि याद ही नहीं रहता--वो शुरू कैसे हुईं। चाय-चायकार भी उनमें से एक हैं। आपको पांच साल पहले की सर्दियों में ले चलते हैं।

16 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree