कृषि क्षेत्र में भविष्य संवारने को परीक्षा में बैठे 10 हजार

विनोद राणा/अमर उजाला, पालमपुर (कांगड़ा) Updated Mon, 05 Jun 2017 11:37 AM IST
Bsc Agriculture entrance exam in himachal
ख़बर सुनें
कृषि क्षेत्र में भविष्य संवारने के लिए कृषि विवि पालमपुर की प्रवेश परीक्षा में 10 हजार से अधिक युवाओं ने भाग लिया। रविवार को प्रदेश के विभिन्न परीक्षा केंद्रों में विभिन्न कोर्सों के लिए प्रवेश परीक्षा हुई। इसके माध्यम से छात्रों को एग्रीकल्चर साइंस और पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी में प्रवेश मिलेगा। 
एग्रीकल्चर बीएससी और पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी 161 सीटों के लिए यह परीक्षा हुई। यह परीक्षा प्रदेश भर के प्रमुख शहरों में तीस सेंटरों पर हुई। कृषि विवि पालमपुर में बीएससी एग्रीकल्चर और पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी में प्रवेश पाने के लिए छात्र सुबह से सेंटरों के बाहर जमा हो गए। 

पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान बीएससी में 161 सीटों के लिए प्रदेश भर से करीब दस हजार छात्रों ने परीक्षा दी। अब परीक्षा में मेरिट के आधार पर छात्रों को प्रवेश मिलेगा। प्रवेश परीक्षा के लिए करीब तेरह हजार से अधिक छात्रों ने आवेदन किया था। पहले यह परीक्षा जमा दो के मेरिट आधार पर होती थी, लेकिन करीब छह साल पहले से यह परीक्षा ओपन टेस्ट के माध्यम से हो रही है। 

इसका परिणाम करीब एक से डेढ़ महीने के अंदर निकल जाएगा। हालांकि, कृषि विवि में प्रवेश पाने के लिए प्रवेश परीक्षा परिणाम मेरिट के हिसाब से ही बनेगा, लेकिन इसमें भी एससी, एक्स सर्विसमैन और स्पोर्ट्स मैन आदि का कोटा होगा। 

विवि में अभी होम साइंस और बेसिक साइंस में प्रवेश अभी भी जमा दो की मेरिट पर किया जाता है। उधर, कृषि विवि पालमपुर के संयुक्त निदेशक (सूचना एवं जनसंपर्क) डॉ. हृदय पाल सिंह प्रदेश भर में यह परीक्षा ली गई है। इसका परिणाम एक से डेढ़ महीने का समय लेगा।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

BEd करना चाहते हैं, तो देखिए पीयू ने जारी किया शेड्यूल...देखें और आवेदन करें

पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ ने बीएड की दाखिला प्रक्रिया का शेड्यूल जारी कर दिया है। दाखिला चाहिए तो जल्दी से आवेदन कीजिए।

22 मई 2018

Related Videos

एसपी नेता के विवादित बोल समेत 05 बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। बलिया में एसपी नेता रामशंकर विद्यार्थी के बिगड़े बोल, कहा महिला ना पहनें अश्लीलता फैलाने वाले कपड़े।

22 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen