विज्ञापन

#VandeBharatMission: विदेशों से भारतीयों को लाने का अभियान जारी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 16 May 2020 10:30 AM IST
विज्ञापन
वंदे भारत मिशन
वंदे भारत मिशन - फोटो : पीटीआई
ख़बर सुनें

सार

  • वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों से भारतीयों को लाने का काम जारी
  • अमेरिका से भारत लौटे 121 भारतीय

विस्तार

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी के कारण बेहाल हो चुकी है। दुनिया के लगभग हर देश में वायरस ने अपने पांव पसार दिए हैं। इस कारण दुनिया के कई देशों ने अपने यहां लॉकडाउन लागू किया हुआ है। लॉकडाउन लागू होने के कारण दुनियाभर के कई देशों में विदेशी भारतीय फंस गए हैं। इन नागिरकों की मांग है कि इन्हें जल्द से जल्द भारत वापस लाया जाए। अधिकतर भारतीय अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा , इटली और खाड़ी देशों में फंस हुए हैं। 
विज्ञापन

इसे देखते हुए सरकार ने सात मई से विदेशों में फंसे भारतीयों की वापसी के लिए 'वंदे भारत मिशन' की शुरुआत की थी। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर के देशों में लागू लॉकडाउन के चलते विदेशों में फंसे भारतीय नागिरकों को लाने की शुरुआत सात मई से की जाएगी। 
वंदे भारत मिशन के तहत सरकार विदेशों से भारतीय छात्रों समेत करीब 14 हजार 800 लोगों को वापस लाने के काम में लगी हुई है। फ्लाइट लेने से पहले यात्रियों की मेडिकल स्क्रीनिंग की जा रही है। जिन भारतीयों में खांसी, बुखार या सर्दी के लक्षण पाए जा रहे हैं, उन्हें यात्रा की अनुमति नहीं मिल रही है। 

यात्रा के दौरान, इन सभी यात्रियों को स्वास्थ्य मंत्रालय और नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा जारी किए गए प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। भारत आने के बाद इन सभी लोगों को 14 दिनों तक अस्पताल या किसी अन्य स्थान पर क्वारंटीन में रखा जा रहा है। 

अमेरिका से लौटे 121 भारतीय
इसी अभियान के तहत, एयर इंडिया के विशेष विमान से अमेरिका के निवार्क से 121 भारतीयों को सुबह 3.14 बजे तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद लाया गया है।  
 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

मालदीव से 588 भारतीय आईएनएस जलाश्व पर सवार होकर रविवार सुबह पहुंचेंगे कोच्चि

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us