स्केटिंग के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप

संजीव पंगोत्रा/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Wed, 03 Sep 2014 04:25 PM IST
विज्ञापन
Know Here About Sketing

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
ट्राइसिटी में ऐसे कई खिलाड़ी हैं जिन्होंने देश में ही नही विदेशों में भी स्केटिंग में अपनी काबिलियत साबित की है। सिटी ब्यूटीफल और इसके आसपास स्केटिंग के लिए बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर है। कई स्कूलों में शानदार रिंग बने हैं जहां रोजाना कई युवा अभ्यास में जुटे हुए दिखाई देते हैं।
विज्ञापन

दो तरह के स्केटिंग रिंग-
पहला स्पीड स्केटिंग ट्रैक 200 मीटर का होता है। इसमें 300 मीटर, 500 मीटर, 500 मीटर की रेसों का आयोजन किया जाता है।
दूसरा रोलर हॉकी रिंक। इसमें रोलर हॉकी के मुकाबलों का अयोजन किया जाता है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

ये हैं स्के‌टिंग के रूल्स

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X