MyCity App MyCity App

उत्तराखंड में खेल का माहौल शानदारः प्रभजोत सिंह

अंशुल डांगी/ अमर उजाला देहरादून Updated Mon, 05 May 2014 03:23 PM IST
विज्ञापन
international hockey player prabhjot singh

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
वाह! क्या खेल रहे हैं युवा, इतना फास्ट गेम वह भी स्कूल स्तर पर, आज तक नहीं देखा। पंजाब और वेल्हम की टीम के तीन-चार खिलाड़ी ऐसे हैं, जिनको बेहतर कोचिंग मिले तो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं।
विज्ञापन

उत्तराखंड में खिलाड़ियों को कोचिंग देना चाहूंगा...
खेल से संन्यास के बाद मौका मिला तो उत्तराखंड में खिलाड़ियों को कोचिंग देना चाहूंगा। यहां खेल का माहौल शानदार है। यह कहना है ओलंपियन और अर्जुन अवॉर्डी हॉकी खिलाड़ी प्रभजोत सिंह का।
रविवार को वेल्हम ब्वॉयज स्कूल में हॉकी प्रतियोगिता के दौरान प्रभजोत सिंह ने कहा कि स्कूल स्तर पर इतना फास्ट गेम भविष्य के लिए अच्छा है। अगर यहां एस्ट्रो टर्फ लग जाए तो खेल का स्तर ऊंचा हो जाएगा।

आईओसी में डिप्टी मैनेजर प्रभजोत हॉकी इंडिया लीग में मुंबई मैजीसियंस के कप्तान हैं और जर्मन लीग भी खेल रहे हैं।
एचआईएल को युवा खिलाड़ियों की खोज बताते हुए प्रभजोत ने कहा कि भारतीय टीम में शामिल कई खिलाड़ी इसी लीग की खोज हैं।

इसमें विदेशी खिलाड़ियों से सीखने को मिल रहा है। प्रभजोत ने कहा कि खिलाड़ी के लिए कोच सबसे बड़ी प्रेरणा होते हैं। कोच की बात मानें और कठिन मेहनत कर खेल पर फोकस करें तो कामयाबी जरूर कदम चूमेगी।

वंदना का खेल करता है प्रभावित
भारतीय हॉकी टीम में शामिल उत्तराखंड की वंदना कटारिया के बारे में प्रभजोत सिंह ने कहा कि उसकी फिटनेस अच्छी है और वह शानदार खेल रही हैं। अनुभव बढ़ने के साथ उनके खेल में निखार आएगा। वह लंबे समय तक देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।

मेजर ध्यानचंद को मिलना चाहिए भारत रत्न
प्रभजोत सिंह ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मेजर ध्यानचंद के शानदार खेल के कारण भारत को हॉकी में पहचान मिली। उनको भारत रत्न दिया जाना चाहिए।

कंप्टीशन बढ़ने से सुधरा है खेल
प्रभजोत सिंह का मानना है कि टीम में एक प्लेस के लिए चार से पांच खिलाड़ियों के बीच कंप्टीशन है। इससे खिलाड़ियों के खेल का स्तर सुधर रहा है और टीम को बढ़िया खिलाड़ी मिल रहे हैं।

आने वाले समय में हॉकी का खेल फास्ट होने वाला है। 70 मिनट का खेल 60 मिनट का हो जाएगा। जिस कारण खिलाड़ी को सिर्फ खेल पर ही फोकस रखना होगा।

संदीप हैं सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी
वर्ष 2015 में होने वाले हॉकी वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम की तैयारियों को प्रभजोत सही बताते हैं। कहा कि भारत के पास संदीप सिंह के रूप में विश्व का सर्वश्रेष्ठ ड्रैग फ्लीकर और एचआईएल का बेस्ट स्कोरर है।

नए आस्ट्रेलियन कोच टैरी वॉस भी तैयारी को सही दिशा में ले जा रहे हैं। अटैक हमारी ताकत है। कोच उस पर काम कर रहे हैं। यूरोपीय टूर से भी खेल काफी सुधरा है।

मेडल आएंगे तभी मिलेगा मान
हॉकी खिलाड़ियों को क्रिकेटरों से कम सम्मान मिलने की बात पर प्रभजोत का कहना है कि क्रिकेट में कई उपलब्धियां बीते कुछ सालों में आई हैं।

हॉकी में भी बड़े टूर्नामेंट में ऐसी उपलब्धियों और मेडल लाकर दिखाना पड़ेगा। इसके बाद खुद सम्मान मिलेगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us