विज्ञापन
विज्ञापन

अशोभनीय आचरण

नई दिल्ली Updated Sun, 02 Nov 2014 07:51 PM IST
Unbecoming conduct
ख़बर सुनें
एक कार्यक्रम में जमीन सौदे से जुड़े सवाल पूछे जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने एक संवाददाता के साथ जिस तरह बदसुलूकी की, उसका समर्थन नहीं किया जा सकता। वाड्रा के बचाव में उतरी कांग्रेस का तर्क है कि उकसावे वाले सवाल बार-बार नहीं पूछे जाने चाहिए। पर यह वाड्रा द्वारा किए गए दुर्व्यवहार के बचाव का कवच नहीं हो सकता। अप्रिय लगते सवाल को वह शिष्टता से टाल सकते थे। इसके बजाय उन्होंने न सिर्फ रिपोर्टर का माइक झटक दिया, बल्कि अपने सुरक्षाकर्मियों से इससे जुड़ी फुटेज मिटा देने का भी निर्देश दिया।
विज्ञापन
मानो यह अक्खड़पन ही कम न हो, मामला तूल पकड़ने के बाद वाड्रा के दफ्तर की ओर से जो सफाइयां दी गईं, वे भी बहुत दमदार नहीं हैं। यह आचरण तब है, जब हरियाणा में जमीन सौदों में हुई गड़बड़ियां अब छिपी हुई नहीं हैं और बार-बार इससे संबंधित खुलासे आ ही रहे हैं। हरियाणा में भूपिंदर सिंह हुड्डा सरकार के दौरान हुए जमीन सौदों पर तैयार की गई अपनी रिपोर्ट के पहले मसौदे में अब तो कैग ने भी माना है कि राज्य में जमीन के कारोबार में वाड्रा ने कानून से खिलवाड़ करते हुए चवालीस करोड़ रुपये कमाए हैं। कैग के मुताबिक, वाड्रा की कंपनी और हरियाणा सरकार के बीच हुए समझौते का उल्लंघन करते हुए वाड्रा को लाभ पहुंचाया गया, जिससे राज्य के खजाने को नुकसान पहुंचा। ऐसे में, वाड्रा ऐसे सवालों से कब तक कतराते रहेंगे और कांग्रेस कब तक उनका बचाव करती रहेगी!

लाजिमी तो यह था कि पहली बार यह मामला सामने आने के बाद कांग्रेस खुद आगे बढ़कर इसकी सच्चाई की तह में जाने की प्रतिबद्धता दिखाती। इसके बजाय बिल्कुल शुरुआत से ही उसने इस मुद्दे पर चुप्पी साध रखी है। कैग का ताजा आकलन अशोक खेमका के खुलासे से बहुत मिलता-जुलता है, पर तब हरियाणा की हुड्डा सरकार ने खेमका का तबादला करके यही संदेश दिया था कि वह मामले की सच्चाई को सामने नहीं आने देना चाहती।

बेशक, इस मुद्दे को राजनीतिक रंग देने से बचना चाहिए, पर कैग के खुलासे के बाद इस मामले की न सिर्फ जांच होनी चाहिए, बल्कि दोषियों को सख्त सजा दिलाना भी उतना ही जरूरी है। जहां तक कांग्रेस के रवैये का सवाल है, तो अपने सबसे मुश्किल दौर से गुजर रही यह पार्टी इस तरह के मामलों का बचाव कर अपना और नुकसान ही करेगी।
विज्ञापन

Recommended

छात्रोंं के करियर को नई ऊंचाइयां देता ये खास प्रोग्राम
Invertis university

छात्रोंं के करियर को नई ऊंचाइयां देता ये खास प्रोग्राम

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Crime Archives

यूपी: रामलीला मंच पर डांस करने को लेकर विवाद, गोलीबारी में किशोर घायल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में रामलीला में डांस को लेकर लोगों में जमकर मारपीट हो गई। झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस दौरान रामलीला मंच पर तोड़फोड़ कर दी और फायरिंग भी हुई। फायरिंग करते समय छर्रा लगने से एक किशोर घायल हो गया...

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

ग्राहकों के लिए शुरू हुई ‘SBI Card Pay’ सुविधा, एक क्लिक में देखें कारोबार और टेक की बड़ी खबरें

भारतीय स्टेट बैंक ( SBI ) ने दिवाली से पहले अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है, जिसके तहत ग्राहक कांटैक्टलेस पेमेंट कर सकते हैं। एसबीआई ने मोबाइल से पेमेंट करने वाली नई सुविधा ‘SBI Card Pay’ शुरू कर दी है।

17 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree