हिम तेंदुआ

अमर उजाला दिल्ली Updated Tue, 28 Jan 2014 07:08 PM IST
Snow Leopard
हाल ही में उत्तराखंड के गंगोत्री नेशनल पार्क में लगाए गए कैमरों में हिम तेंदुओं की तस्वीरें कैद होने से यह साफ हो गया है कि देश में हिम तेंदुओं का कुनबा मौजूद है। हिम तेंदुआ मध्य एशिया के पर्वत शृंखलाओं में रहने वाला जानवर है, जो आईयूसीएन के रेड लिस्ट में शामिल संकटग्रस्त और संरक्षित प्राणी है। यह पाकिस्तान का राष्ट्रीय धरोहर पशु है।

हिम तेंदुआ मध्य एशिया के बर्फीले इलाकों में समुद्र तल से 3,350 से 6,700 मीटर की ऊंचाई पर पाया जाता है। यह 'बिग कैट' प्रजाति (जिसमें बाघ, सिंह, जगुआर एवं तेंदुआ आते हैं) के अन्य जीवों से आकार में कुछ छोटा होता है और सिर से पूंछ के आधार तक इसकी लंबाई 75 से 130 सेंटीमीटर तक होती है। मादा हिम तेंदुआ की लंबाई नर के मुकाबले कुछ कम होती है। सामान्यतः इसका वजन 27 से 55 किलोग्राम के बीच होता है। इनका रंग हल्का भूरा होता है और वातावरण के अनुसार इसके शरीर पर स्लेटी व काले धब्बे होते हैं।

पहली बार हिम तेंदुए के बारे में 1750 में स्क्रैबर ने बताया था। गर्मियों में यह आम तौर पर पर्वतों के वन क्षेत्र एवं चट्टानी इलाकों में 2,700 से 6,000 मीटर की ऊंचाई पर रहता है, लेकिन सर्दियों में यह भोजन की तलाश में 1,200 से 2,000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित जंगलों में आ जाता है। यह उबड़-खाबड़ चट्टानी इलाकों में रहना पसंद करता है और 85 सेंटीमीटर बर्फ में भी आसानी से चल सकता है।

हिम तेंदुए काफी हद तक एकाकी जीवन बिताते हैं। दुनिया भर में हिम तेंदुओं की अनुमानित आबादी करीब 4,510 से 7,350 के बीच है। भारत में 75,000 वर्ग किलोमीटर के दायरे में इसकी आबादी करीब 200 से 600 के बीच आंकी गई है।

Spotlight

Most Read

Other Archives

शहरियों ने कटा दी नाक, सिर्फ 58.89 फीसदी मतदान

बिंदकी समेत अन्य ने की पूरी मेहनत, रहे अव्वल हथगाम ने इस बार भी बाजी मारी, पांच फीसदी उछला

30 नवंबर 2017

Other Archives

35 घायल

28 नवंबर 2017

Related Videos

VIDEO: आपने आज तक नहीं देखा होगा ऐसा डांस! चौंक जाएंगे देखकर

सोशल मीडिया पर अक्सर आपको कई चीजें वायरल होते हुए मिल जाती हैं लेकिन फिर भी कई चीजें ऐसी होती हैं जो वायरल तो हो रही हैं लेकिन आप तक नहीं पहुंच पातीं।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls