विज्ञापन
विज्ञापन

बुढ़ापा पेंशन के लिए आधार बना आफत

अमर उजाला ब्यूरो/ रोहतक Updated Tue, 04 Nov 2014 02:04 AM IST
ख़बर सुनें
प्रदेश सरकार का फरमान बुजुर्गों के लिए आफत बन गया है।
विज्ञापन
बुढ़ापा पेंशन के लिए आधार कार्ड जरूरी किए जाने पर कार्ड बनवाने के लिए बुजुर्ग धक्के खा रहे हैं। कार्ड बनाने के काम की गति धीमी होने के कारण सोमवार को रोहतक ई-दिशा केंद्र और सांपला बीडीओ कार्यालय में हंगामा हो गया।

कार्यालय में भीड़ बेकाबू होते देख बीडीओ सांपला चुपचाप खिसक लिए और रोहतक एडीसी आफिस पहुंच सही मशीन लगाने की गुहार की। रोहतक ई-दिशा केंद्र में अव्यवस्था की वजह से पूरे दिन हंगामा हुआ। परेशान बुजुर्ग शिकायत लेकर डीसी ऑफिस पहुंचे, पर किसी के न मिलने पर बैरंग लौट आए।
बुजुर्ग बोले, जुगाड़ से होता है काम
बुजुर्गों का कहना है कि पेंशन ऑफिस में आधार कार्ड बनवाने के लिए कहा जा रहा है और यहां कार्ड बन नहीं रहे हैं। कोई 4 दिन से तो कोई पांच दिन से चक्कर लगा रहा है।

रोज मशीन खराब रहती है। आरोप लगाया कि यहां जुगाड़ से काम होता है। गरीबों की कोई सुनवाई नहीं है। रोहताश और मुन्नी देवी मकड़ौली से आकर सुबह से लाइन में लगे।

शिकायत है कि कुछ सिफारिशी लोग चहेतों को सीधा अंदर ले जाकर कार्ड की औपचारिकताएं पूरी करा रहे हैं। बृहस्पतिवार से रोजाना आ रहे हैं, लेकिन आज कल कहकर वापस भेज दिया जाता है। दोनों के आने जाने में 100 रुपए रोज खर्च हो गए। विजयनगर से आई सुशीला देवी ने भी यही आरोप लगाया। कहा कि सुबह ही फार्म जमा कराया, लेकिन फार्म को बाहर फेंक दिया। हंगामा किया तो दोबारा जमा कर लिया। मॉडल टाउन से अपने दो बच्चों दीपक और अदिति को लेकर आईं मां ने कहा कि वे सुबह से लाइन में लगे हैं। पहले फार्म नहीं दिया। फार्म दिया भरकर जमा कराया तो नंबर नहीं आया। 4 बज गए हैं। आधार कार्ड बनेगा या नहीं कहा, नहीं जा सकता। इधर, सांपला में कार्ड बनाना बंद कर दिया। वहां की दरिया कॉलोनी गली नंबर 8 से यहां पहुंची बबली को भी निराशा ही हाथ लगी।
कहां हैं अच्छे दिन, यहां तो पेंशन के लाले
नेहरू कॉलोनी से 81 वर्षीय बुजुर्ग शिवकुमार और 85 वर्षीय जगदीश भी सुबह से परेशान थे। कहा कि हमसे बाद में आए लोगों को निशान लेने के लिए अंदर बुला लिया। हमारा नंबर नहीं आ रहा है। पता नहीं क्या हो रहा है। मोदी ने कहा था कि अच्छे दिन आएंगे, लेकिन यहां तो पेंशन भी बंद होने को है। सैकड़ों लोग परेशान होकर वापस चले गए। मदीना से आई कपूूरी देवी का कहना है कि  फार्म ही मुश्किल से मिला। बड़ी संख्या में बुजुर्गों के साथ छात्र और बच्चे भी आधार कार्ड बनवाने को लेकर परेशान दिखे।
-
कंपनी ने पुरानी घिसी हुई मशीन लगा रखी है। 10 हजार निशान लेने के बाद उसका लेंस बदले जाने का प्रावधान है।
करतार सिंह, एडीसी ऑफिस।
 ---
कुछ दिक्कत थी। लोग अधिक आ रहे हैं। मशीन एक ही है। ऐसे में हंगामा तो होगा ही। मशीन बढ़वाने की जरूरत है।
रविंद्र, एमएमएस कर्मी रोहतक।
-
भीड़ अधिक पहुंच गई थी। मशीन काम नहीं कर रही थी। समधान के लिए एडीसी के पास आया हूं। ताकि वहां दूसरी मशीन लगाई जा सके।
नरेश छिक्कारा, बीडीओ, सांपला।
विज्ञापन

Recommended

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन
Oppo Reno2

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Crime Archives

यूपी: रामलीला मंच पर डांस करने को लेकर विवाद, गोलीबारी में किशोर घायल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में रामलीला में डांस को लेकर लोगों में जमकर मारपीट हो गई। झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस दौरान रामलीला मंच पर तोड़फोड़ कर दी और फायरिंग भी हुई। फायरिंग करते समय छर्रा लगने से एक किशोर घायल हो गया...

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

जिया खान के जिक्र पर यूं भर आया सूरज पंचोली का गला

सूरज पंचोली की फिल्म सैटेलाइट शंकर का ट्रेलर लॉन्च हो गया है। इस दौरान मीडिया से बातचीत के दौरान जिया खान के जिक्र पर सूरज पंचोली का गला भर आया।

17 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree