बॉलीवुड में मां का चित्रण

अनुराधा गोयल Updated Sat, 12 May 2012 12:00 PM IST
Characterization of mother in bollywood
बॉलीवुड में मां के चित्रण की बात करें तो आज से दो-तीन दशकों के पहले की फिल्मों को याद करें तो ऐसी मां का चेहरा आंखों के आगे उभरता है जो भारतीय परंपरा में संपूर्ण मां के रूप में उभर कर आती है, जो त्याग की देवी है, जो दुखों का पहाड़ बिना उफ किए उठा लेती है।
बॉलीवुड की ये मां अपने परिवार का पालन-पोषण करने के लिए जीवन भर त्याग करती रहती है। ये बेसहारा-लाचार है, किस्मत की मारी, पति की ठुकराई हुई है, जिसके दुख कभी खत्म होने का नाम नहीं लेते। लेकिन फिर भी उसमें अपने बच्चों की खातिर जीने की हिम्मत है। वह मेहनत करने से कहीं भी नहीं चूकती है। अपने बच्चों के लिए हर तरह का त्याग करने को तैयार रहती है।

Spotlight

Most Read

Other Archives

शहरियों ने कटा दी नाक, सिर्फ 58.89 फीसदी मतदान

बिंदकी समेत अन्य ने की पूरी मेहनत, रहे अव्वल हथगाम ने इस बार भी बाजी मारी, पांच फीसदी उछला

30 नवंबर 2017

Other Archives

35 घायल

28 नवंबर 2017

Related Videos

जानिए, PNB को अरबों रुपये का चपत लगाने वाले नीरव मोदी की कहानी

पंजाब नेशनल बैंक में देश का बड़ा बैंकिंग घोटाला हुआ है।

20 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen