विज्ञापन

शशि थरूर

विनीता वशिष्ठ Updated Fri, 04 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
shashi tharoon controvercial tweets
ख़बर सुनें
ट्विटर मंत्री के तौर पर लोकप्रिय हो चुके शशि थरूर का ट्विटर के प्रति प्रेम जगजाहिर है। उनके कई ट्वीट्स ने इतना बवाल मचाया कि थरूर को क़ेंद्रीय मंत्री का पद छोड़ना पड़ा। हाई क्लास डिप्लोमेट थरूर जब राजनीति में आए तो वो नहीं जानते थे कि ट्वीट लिखने से इतना बवाल मचेगा। आईपीएल में कोच्चि टीम क़ी फ्रेंचाइजी को लेकर भी थरूर ने ललित मोदी के साथ ट्वीट युद्ध लड़ा जो मीडिया में सुर्खियों में रहा।
विज्ञापन


इकोनॉमी यानी कैटल क्लास
एक पत्रकार के केरल यात्रा से संबंधित सवाल के जवाब में थरूर ने लिखा -ज़रूर सफ़र करूंगा-मवेशी क्लास में, पवित्र गायों के साथ अपना सहयोग दर्शाते हुए।


अच्छा है अमूल बेबी
राहुल गांधी को अमूल बेबी कहा जाने पर थरूर ने ट्विटर पर लिखा - अमूल बेबी, चुस्त-दुरुस्त, स्वस्थ और भविष्य काग्र पीढी को दर्शाता है और इनमें से कुछ भी अपमानजनक नहीं है।

वीजा संबंधी नियमों पर आपत्ति

यही नहीं थरूर ने मंत्री पद पर रहते हुए सरकार के वीजा संबंधी नियमों पर आपत्ति जताई थी। इस बात को लेकर कांग्रेस आलाकमान से नाराजगी भी जाहिर की गई थी।

क्या आपको लगता है कि भड़काऊ ट्वीट पब्लिसिटी पाने का नायाब फंडा है। क्या सेलेब्रिटी के भड़काऊ ट्वीट पर रोक लगाना जरूरी है?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us