विज्ञापन
विज्ञापन

तेलंगाना फैसले के लिए सरकार को चाहिए वक्त

नई दिल्ली/हैदराबाद/एजेंसी Updated Sun, 27 Jan 2013 10:50 PM IST
upa govt want more time to take decision on telangana
ख़बर सुनें
अलग तेलंगाना राज्य की मांग पर फैसला लेने में फिलहाल देरी होना तय है। कांग्रेस ने रविवार को साफ किया कि इस मुद्दे पर अंतिम निर्णय पर पहुंचने से पहले उन्हें थोड़ा और वक्त चाहिए। पिछले महीने तेलंगाना पर फैसला लेने के लिए एक महीने डेडलाइन तय करने वाले गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि सलाह लेने की प्रक्रिया अभी चल रही है।
विज्ञापन
एक बयान में उन्होंने कहा कि अंतिम निर्णय पर पहुंचने के लिए उन्हें अभी थोड़ा और समय चाहिए। इस बीच तेलंगाना समर्थकों ने हैदराबाद में विरोध प्रदर्शन किया। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के विधायक एमके रामाराव और अन्य नेताओं प्रदर्शन में भाग लेने का प्रयास में हिरासत में लिया गया। इस घोषणा से पहले ही राज्य सरकार पर दबाव बनाने के लिए टीआरएस ने 36 घंटे के बंद का भी आह्वान किया।

आंध्र प्रदेश के इंचार्ज कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद ने भी इन्हीं बातों को दोहराते हुए कहा कि इस मुददे पर आंध्र प्रदेश के नेताओं से विस्तृत चर्चा करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमें आंध्र प्रदेश के तीनों हिस्सों के सीनियर नेताओं से सलाह की जरूरत है। इसके लिए हमें उन्हें चर्चा के लिए आमंत्रित करना होगा। साथ ही हम मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ को भी सलाह के लिए आमंत्रित करेंगे। इसके लिए समय सीमा तय नहीं की गई है, लेकिन हम जल्द से जल्द उन्हें बुलावा भेजेंगे।

पिछले महीने 28 दिसंबर को शिंदे ने कहा था कि तेलंगाना पर अगले महीने सरकार अपने फैसले की घोषणा कर देगी। हालांकि आजाद ने 23 जनवरी को ही संकेत दे दिए थे कि इस मामले में देरी होने की संभावना है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पिछले कुछ दिनों से आजाद, शिंदे, व्यालार रवि और अहमद पटेल जैसे अपने सीनियर साथियों से गंभीर चर्चा करने में जुटी हुई हैं। कांग्रेस की कोर कमेटी भी शनिवार को इस पर चर्चा हुई थी, लेकिन कोई फैसला नहीं लिया गया।
विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

अमर उजाला के संपादक डॉक्टर इंदुशेखर पंचोली को मातृ शोक

प्रमुख साहित्यकार और शिक्षाविद डॉक्टर बद्रीप्रसाद पंचोली की धर्मपत्नी एवं अमर उजाला दिल्ली के संपादक डॉ. इंदुशेखर पंचोली की माताजी श्रीमती कमला पंचोली का बुधवार तड़के अजमेर में निधन हो गया। वे 80 वर्ष की थीं।

2 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

आरबीआई की पीएमसी ग्राहकों को और राहत, खाते से रुपये निकालने की सीमा 25 से बढ़ाकर 40 हजार की

त्योहारी सीजन को देखते हुए आरबीआई ने पीएमसी बैंक पर लगी पाबंदियों के बीच ग्राहकों को बड़ी राहत दी है। पीएमसी ग्राहक अब खाते से 25 हजार के बजाय 40 हजार रुपये तक निकाल सकेंगे।

14 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree