विज्ञापन
विज्ञापन

इशरत एनकाउंटर केस में दो पुलिस अफसर गिरफ्तार

अहमदाबाद/एजेंसी Updated Sun, 24 Feb 2013 03:26 PM IST
two cops, part of hit squads, held in ishrat encounter case
ख़बर सुनें
गुजरात के चर्चित इशरत जहां फर्जी एनकाउंटर मामले में सीबीआई ने दो और पुलिस अधिकारियों को गिरफ्तार किया है। इनमें डीएसपी पद से रिटायर हुए जेजी परमार और मौजूदा डीएसपी तरुण बारोट शामिल हैं। यह दोनों ही 2004 में हुए इस फर्जी एनकाउंटर को अंजाम देने वाली टीम के सदस्य थे।
विज्ञापन
परमार और बारोट दोनों पहले से ही सादिक जमाल फर्जी एनकाउंटर मामले में न्यायिक हिरासत में थे। ये दोनों इशरत एनकाउंटर के समय इंस्पेक्टर थे। इशरत और उसके तीन सहयोगियों का 15 जून, 2004 में फर्जी एनकाउंटर कर दिया गया था।

उस समय पुलिस ने दावा किया था कि ये चारों मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या करने के अभियान पर निकले थे। इस मामले में बृहस्पतिवार को एजेंसी ने क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के एसपी गिरीश सिंघल को गिरफ्तार किया था।

इस तरह मामले में अब तक तीन गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। हालांकि अदालत ने सीबीआई की परमार को रिमांड पर लेने की अपील खारिज कर दी और उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
विज्ञापन

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Crime Archives

यूपी: रामलीला मंच पर डांस करने को लेकर विवाद, गोलीबारी में किशोर घायल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में रामलीला में डांस को लेकर लोगों में जमकर मारपीट हो गई। झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस दौरान रामलीला मंच पर तोड़फोड़ कर दी और फायरिंग भी हुई। फायरिंग करते समय छर्रा लगने से एक किशोर घायल हो गया...

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय और हेमा मालिनी पर दिया बेतुका बयान

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने सड़कों के बहाने कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा सांसद हेमा मालिनी को लेकर बेतुका बयान दिया है।

15 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree