विज्ञापन
विज्ञापन

खाताधारकों के नाम छुपाने में जुटे स्विस बैंक

एजेंसी, ब्यूरो/बर्न, नई दिल्ली Updated Mon, 03 Nov 2014 12:37 PM IST
swiss banks dont want to disclose names of black money holders.
ख़बर सुनें
विदेश में काला धन रखने वाले संदिग्ध भारतीयों के खिलाफ जांच में तेजी को देखते हुए स्विट्जरलैंड के बैंक अपने हित बचाने में जुट गए हैं। बैंक संभावित कानूनी पेचीदगियों से निपटने के लिए अपने बहीखाते में धन की व्यवस्था करने के साथ स्विस सरकार पर अपने हितों की रक्षा के लिए कदम उठाने का दबाव बना रहे हैं।
विज्ञापन
सूत्रों के मुताबिक पहले ही कुछ बैंकों की भूमिका सवालों के घेरे में है। इन बैंकों ने काला धन रखने वाले संदिग्ध भारतीयों की चिंताओं को दूर करते हुए उनके धन को सुरक्षित रखने का वादा किया है। स्विट्जरलैंड के दो और यूरोप के एक अन्य बड़े बैंक के खिलाफ पहले ही अनियमितता की जांच हो रही है। इन बैंकों पर काला धन रखने वाले भारतीय कारपोरेट घरानों के धन उनकी सूचीबद्ध कंपनियों में विदेशी निवेश के रूप में लगाने का आरोप है। बाजार नियामक संस्था सेबी कम से कम तीन वैश्विक बैंकों और कई भारतीय कंपनियों के खिलाफ विभिन्न स्तरों पर लेन-देन कर काला धन को सफेद करने के आरोप की जांच कर रही है। इन मामलों में सेबी ने अन्य नियामकों से भी सहयोग लिया है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 15 से 20 कंपनियों में ऐसे संदिग्ध लेन-देन हुए हैं। ऐसी भी संभावना जताई जा रही है कि विदेशी बैंकों के कुछ पोर्टफोलियो मैनेजरों ने काला धन रखने वाले भारतीयों को निवेश के जरिए अपने धन भारत ले जाने में सहयोग किया है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

कांग्रेस पर जेटली का करारा हमला

विज्ञापन

Recommended

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश
Dholpur fresh

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

हिमाचल के सेब बगीचों पर वूली एफिड की मार, विशेषज्ञों ने दी ये सलाह

हिमाचल के सेब उत्पादित क्षेत्रों में वूली एफिड की मार पड़ी है। इससे बागवान चिंतित हो गए हैं।

28 नवंबर 2019

विज्ञापन

यूपी में भाजपा नेता सुनील भराला का बयान, कहा, 'हिंदुओं को छोड़नी होगी 'हम दो-हमारे एक' की सोच'

उत्तर प्रदेश श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला ने कहा कि हिंदुओं को 'हम दो-हमारे एक' की सोच छोड़कर कर 'हम दो हमारे पांच' की नीति अपनानी होगी। देखिए जनसंख्या नियंत्रण को लेकर अपने बयान पर उन्होंने क्या तर्क दिया।

9 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election