विज्ञापन

शरद बोले, कोलगेट की भेंट नहीं चढ़ेगा शीत सत्र

नई दिल्ली/एजेंसी Updated Mon, 15 Oct 2012 11:41 PM IST
विज्ञापन
sharad yadav says, winter session will not spoil due to Colgate
ख़बर सुनें
कोयला आवंटन को लेकर संसद का मानसून सत्र भले ही हंगामे की भेंट चढ़ गया हो, लेकिन राजग संयोजक और जदयू प्रमुख शरद यादव ने साफ कर दिया है कि इस बार उनकी पार्टी संसद का बहिष्कार नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि संसद का पिछला सत्र न चल पाना अफसोसजनक था, लेकिन शीतकालीन सत्र सुचारु रूप से चलेगा और एक दिन भी कामकाज नहीं रुकेगा। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि शीत सत्र पूरे समय चलना चाहिए ताकि महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हो सके।
विज्ञापन
शरद यादव के अनुसार शीत सत्र में प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग की जा सकती है, लेकिन इस बात पर अड़ा नहीं जाएगा और इस मुद्दे पर समूचे विपक्ष सहित अन्य दलों के बीच सहमति बनाने का प्रयास किया जाएगा। हालांकि उन्होंने यह भी साफ किया कि वह प्रधानमंत्री से इस्तीफा मांगने के पक्ष में कभी भी नहीं थे। यादव के अनुसार मैं मनमोहन सिंह के इस्तीफे की मांग से सहमत नहीं हूं पर अगर कोई संप्रग सरकार को पूरी तरह हटाने की बात करता है तो मैं उसके साथ हूं।

यादव ने अरविंद केजरीवाल पर भी हमला बोलते हुए कहा कि वह व्यक्तिगत मुद्दों को हवा देकर देश की वास्तविक समस्याओं से ध्यान भटका रहे हैं। शरद ने केजरीवाल को राबर्ट वाड्रा और डीएलएफ के बीच की साठगांठ को लेकर कोर्ट जाने की नसीहत दी। जदयू प्रमुख ने टीम केजरीवाल की आलोचना करते हुए कहा कि व्यक्तिगत हमलों से देश का विकास नहीं हो सकता।

वहीं प्रेस कांफ्रेंस में कानून मंत्री सलमान खुर्शीद के व्यवहार पर यादव बोले, जिस तरह खुर्शीद ने बर्ताव किया, उससे मैं हैरान रह गया। मैंने कभी राजनीति का स्तर इतना गिरते हुए नहीं देखा। मुझे खुर्शीद का व्यवहार देखकर शर्म आती है। यादव ने खुर्शीद की पत्नी के एनजीओ में हुए घोटाले को देखते हुए देश के सभी एनजीओ के कामकाज की जांच कराने की भी मांग की है।

राजग संयोजक ने कहा कि संप्रग सरकार-2 के कार्यकाल में पिछले तीन-चार साल में साढ़े पांच लाख करोड़ रुपये से अधिक के घोटाले हुए। उसके सामने सलमान खुर्शीद और डीएलएफ-वाड्रा का घोटाला बहुत कम है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us