विज्ञापन

सहारा मामले में अब 2 फरवरी को होगी सुनवाई

टीम डिजिटल/ अमर उजाला, दिल्ली Updated Sun, 09 Oct 2016 03:04 AM IST
SC to hear Sahara case on Feb 2
विज्ञापन
ख़बर सुनें
निवेशकों को पैसे लौटाने के लिए सहारा समूह की दो कंपनियों पर नियंत्रण के लिए सेबी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गया है। गौरतलब है कि करीब 36 हजार करोड़ रुपये निवेशकों को लौटाने हैं।
विज्ञापन
सेबी चाहता है कि अदालत निवेशकों को पैसा लौटाने के लिए अंतरिम आदेश दे। सेबी के वकील का कहना है कि अदालती आदेश के बावजूद निवेशकों का पैसा लौटाया नहीं गया है। चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने सेबी के आग्रह को स्वीकार करते हुए दो फरवरी को सुनवाई करने का निर्णय लिया है।

सेबी की ओर से वरिष्ठ वकील अरविंद दत्तार ने बुधवार को पीठ के समक्ष उल्लेख करते हुए कहा कि समूह की दो कंपनियों पर नियंत्रण के लिए रिसीवर को नियुक्त करने की दरकार है। उनका कहना था कि अदालती आदेश के बावजूद निवेशकों को रकम लौटाए नहीं गए हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

सहाराश्री के जेल में होने सौदों में हो रही दिक्‍कत

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

India News Archives

सबरीमाला: इस दावे से शुरू हुई थी मंदिर में महिलाओं के प्रवेश की कहानी

सबरीमाला मंदिर में ये है अब तक की पूरी कहानी, जानें कब क्या हुआ।

17 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree