विज्ञापन
विज्ञापन

आशीष नंदी के दलित विरोधी बयान पर बवाल

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क Updated Sun, 27 Jan 2013 12:44 PM IST
ruckus over nandy's anti-dalit remarks
ख़बर सुनें
जयपुर साहित्य महोत्सव में राजनीतिक मनोविज्ञानी आशीष नंदी द्वारा दिए गए दलित विरोधी बयान की राजनीतिक हलकों में तीखी आलोचना हुई। बयान के कुछ घंटों बाद ही उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 506 (आपराधिक धमकी) और अनुसूचित जाति जनजाति उत्पीड़न रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।
विज्ञापन
राजस्थान अनुसूचित जाति जनजाति मंच के अध्यक्ष राजपाल मीणा ने यह प्राथमिकी दर्ज कराई।

गौरतलब है कि शनिवार को जयपुर साहित्य महोत्सव में जब राजनीतिक चिंतक आशीष नंदी ने कहा था कि यह एक हकीकत है कि अधिकतर भ्रष्ट लोग अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जातियों से आते हैं और अब अनुसूचित जनजाति के लोग भी अधिक संख्या में भ्रष्ट हो रहे हैं।

उन्होंने पश्चिम बंगाल में न्यूनतम भ्रष्टाचर होने का दावा किया था और कहा था, 'मैं एक उदाहरण देता हूं। सबसे कम भ्रष्टाचार वाला राज्य पश्चिम बंगाल है, जहां माकपा की सरकार थी। उन्होंने कहा कि राज्य में पिछले 100 सालों में अजा, अजजा या ओबीसी का एक भी व्यक्ति सत्ता के करीब नहीं पहुंचा।

नंदी के बयान के खिलाफ राजनीतिक हलकों विशेषकर दलित नेताओं ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी। बसपा सुप्रीमो मायावती और लोजपा नेता राम विलास पासवान ने विरोध जताकर नंदी के खिलाफ अनुसूचित जाति-जनजाति अधिनियम के तहत मामला दर्ज करने की मांग की थी। मायावती ने कहा कि नंदी को तुरंत जेल भेजा जाना चाहिए। नंदी के बयान की भाजपा, जदयू, माकपा और अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष पीएल पूनिया ने भी निंदा की।

हालांकि अपने बयान से उपजे बवाल के बाद नंदी ने माफी मांग ली और अपना स्पष्टीकरण भी जारी किया। स्पष्टीकरण में उन्होंने कहा, ''मैंने जो कहा, इस संदर्भ में नहीं कहा था और न ही मैं ऐसा कहना चाहता था। पूरे सत्र में जो बात उठी वह इस प्रकार थी। मैं तरुण तेजपाल की बात का समर्थन कर रहा था कि भारत में भ्रष्टाचार हर तरफ फैला हुआ है।

उन्होंने कहा, 'मेरा मानना है कि भ्रष्टाचार-मुक्त समाज एक प्रकार की तानाशाही जैसा होगा। सत्र में इससे पहले मैंने यह कहा था कि मेरे या रिचर्ड सोराबजी जैसे लोग जब भ्रष्टाचार करते हैं तो बड़ी सफाई से कर जाते हैं, फर्ज करें, मैं उनके बेटे को हार्वर्ड में फैलोशिप दिलवा दूं और वह मेरी बेटी को ऑक्सफोर्ड भिजवा दें। इसे भ्रष्टाचार नहीं माना जाएगा। लोग समझेंगे कि यह उनकी काबिलियत के आधार पर किया गया है, लेकिन जब कोई दलित, आदिवासी या अन्य पिछड़े वर्ग का आदमी भ्रष्टाचार करता है तो वह सबकी नजर में आ जाता है।'

नंदी ने कहा ' हालांकि मेरा मानना है कि इन दोनों भ्रष्टाचारों के बीच कोई अंतर नहीं है और अगर इस भ्रष्टाचार से उन तबकों की उन्नति होती है तो भ्रष्टाचार में बराबरी बनी रहती है। इस बराबरी के बलबूते पर मैं गणतंत्र को लेकर आशावादी हूं। आशा है कि मेरे इस बयान से यह विवाद यहीं खत्म हो जाएगा।'

उन्होंने माफी मांगते हुए कहा कि अगर उनके बयान से गलतफहमी पैदा हुई है तो मैं माफी चाहता हूं। हालांकि ऐसी कोई बात हुई नहीं थी। मैं किसी भी समुदाय की भावना को आहत नहीं करना चाहता था और अगर मेरे शब्दों या गलतफहमी से ऐसा हुआ है तो मैं क्षमाप्रार्थी हूं।
विज्ञापन

Recommended

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन
Oppo Reno2

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Crime Archives

यूपी: रामलीला मंच पर डांस करने को लेकर विवाद, गोलीबारी में किशोर घायल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में रामलीला में डांस को लेकर लोगों में जमकर मारपीट हो गई। झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस दौरान रामलीला मंच पर तोड़फोड़ कर दी और फायरिंग भी हुई। फायरिंग करते समय छर्रा लगने से एक किशोर घायल हो गया...

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

जिया खान के जिक्र पर यूं भर आया सूरज पंचोली का गला

सूरज पंचोली की फिल्म सैटेलाइट शंकर का ट्रेलर लॉन्च हो गया है। इस दौरान मीडिया से बातचीत के दौरान जिया खान के जिक्र पर सूरज पंचोली का गला भर आया।

17 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree