लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   News Archives ›   India News Archives ›   now you will know better history of railway

अब और बेहतरीन तरीके से जान सकेंगे भारतीय रेलवे का इतिहास

शिशिर चौरसिया/अमर उजाला, दिल्ली Updated Wed, 22 Jul 2015 09:34 AM IST
now you will know better history of railway
विज्ञापन
ख़बर सुनें

क्या आप जानते हैं कि शुरूआती दिनों में रेलगाड़ी को घोड़ों के द्वारा खींचा जाता था या फिर हैदराबाद के निजाम ने दिल्ली स्टेशन पर ट्रेन से उतरने से इंकार कर दिया था क्योंकि तब अंग्रेजी हुकूमत ने हाथी को प्लेटफार्म पर जाने कि इजाजत नहीं दी थी।



रेलवे से जुड़ी ऐसी जानकारी को रेलयात्री डॉट इन ने अपने मोबाइल एप्प में शामिल किया है। रेलयात्री डॉट इन ने अपने एप्प के अंतर्गत विजुअल रेल हिस्ट्री पेश किया है। यह नवीनतम पेशकश देश की मुख्य घटनाओं से संबंधित रोचक जानकारी के रूप में है।


यह एंडॉयड एप्प अब एक सरल समय-सीमा प्रारुप में रेलगाड़ी की विकास यात्रा की जानकारी हासिल करने का जरिया उपलब्ध कराएगा। रेलयात्री एप्प को विजुअल रेल हिस्ट्री के लॉन्च के बाद उपयोगकर्ताओं से शानदार प्रतिक्रिया मिली है। (फोटो रेलयात्री.इनसे साभार)

वेबसाइट पर भी होगा एक्सेस

now you will know better history of indian railway2
रेलेयात्री डॉट इन के सह संस्थापक और सीईओ मनीष राठी का कहना है कि इस एप्प में 100 से अधिक इवेंट्स को शामिल किया गया है। इस एप्प को आसानी से रेल यात्री डॉट इन की वेबसाइट पर भी ऐक्सेस किया जा सकता है।

उनके मुताबिक विजुअल रेल हिस्ट्री विद्यार्थियों, इतिहास प्रेमियों एवं रेलगाड़ियों के प्रेमियों के लिए एक शैक्षणिक टूर के रुप में सेवाएं उपलब्ध कराएगी। इसके अंतर्गत 18वीं शताब्दी से ले कर हालिया समय तक की घटनाएं प्रदर्शित की जाएंगी।

रेलयात्री नामक इस मल्टी मॉडल ट्रेन एप्प में लंबी दूरी, इंटर-सिटी, मेट्रो एवं लोकल ट्रेनों की सूचनाएं शामिल हैं। इसमें पीएनआर प्रेडिक्शन, सीट कंफर्मेशन फोरकास्ट, लाइव ट्रिप शेयरिंग एवं कुछ अन्य खूबियां भी शामिल हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00