विज्ञापन
विज्ञापन

अब म्यांमार ने दिखाई धौंस, भारतीय सीमा में की घुसपैठ

इंफाल/एजेंसी Updated Thu, 29 Aug 2013 12:13 AM IST
myanmarese army to construct defence post near indian border
ख़बर सुनें
चीन और पाकिस्तान के बाद अब छोटा सा मुल्क म्यांमार भी भारत को आंखें दिखाने लगा है।
विज्ञापन
म्यांमार की सेना ने मणिपुर से लगती सीमा पर न केवल बाड़ लगाने की कोशिश की, बल्कि वहां एक रक्षा चौकी बनाने की भी तैयारी कर ली, जबकि इस इलाके में दोनों देशों के बीच सीमा का निर्धारण ही नहीं हुआ है।

मामले के खुलासे के बाद भारत ने म्यांमार से इस मुद्दे पर कड़ा ऐतराज जाहिर कर दिया है।

अधिकारियों के मुताबिक हाल ही में मणिपुर के चंदेल जिले के सीमावर्ती गांव मोरेह से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा पर म्यांमार की सेना ने निर्माण सामग्री जमा कर रखी थी। इसका इस्तेमाल बाड़ लगाने और कैंप तैयार करने में किया जाना था।

इस संबंध में राज्य के मुख्यमंत्री ओ इबोबी सिंह द्वारा की गई मांग के बाद केंद्र ने म्यांमार के समक्ष इस मुद्दे को उठाया था। जिसके बाद म्यांमार ने निर्माण संबंधी गतिविधियों को रोक दिया है।

राज्य सरकार ने केंद्र को सतर्क किया था कि अगर पड़ोसी देश ने सीमा पर निर्माण किया तो राज्य को अपना बड़ा हिस्सा खोना पड़ सकता है।

कुछ दिन पहले भी म्यांमार की तरफ से राज्य के होलेनफाई गांव से लगती सीमा पर बेस कैंप बनाने की कोशिश की गई थी।

मणिपुर के राज्यपाल अश्विनी कुमार ने भी मंगलवार को चंदेल जिले में मोरेह शहर की सीमा के पास 10 किलोमीटर लंबे इलाके का जायजा लिया जहां म्यांमार ने हाल ही में बाड़ लगाने की कोशिश की।

हालांकि केंद्रीय गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हमने इस मामले को म्यांमार सरकार के समक्ष उठाया था और इसे सौहार्दपूर्ण तरीके से सुलझा लिया गया है। उन्होंने म्यांमार द्वारा भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने की बात से इंकार किया।

इस क्षेत्र में तैनात असम रायफल्स ने गृहमंत्रालय को भेजी सूचना में कहा है कि म्यांमार सेना ने भारतीय क्षेत्र में प्रवेश नहीं किया।

सूचना में कहा गया है कि म्यांमार सैनिक सीमा पर स्थित बॉर्डर पिलर 76 (बीपी) के पास अस्थायी रक्षा चौकी बनाने के लिए पेड़ों की कटाई कर रहे थे जिसे रुकवा दिया गया।

म्यांमार की इन गतिविधियों की जानकारी बीते हफ्ते सामने आई। दोनों देशों के बीच हुए समझौते के मुताबिक सीमा पर 10 मीटर के दायरे में कोई भी निर्माण कार्य नहीं किया जा सकता।

संयुक्त सीमा कार्य समूह का गठन करे म्यांमार
दोनों देशों के बीच सीमा के सही निर्धारण को लेकर भारत ने म्यांमार से संयुक्त सीमा कार्य समूह गठित करने की मांग की है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सईद अकबरुद्दीन ने बताया कि म्यांमार द्वारा सीमा पर हालिया निर्माण मामले के सामने आने के बाद भारत ने इसके गठन पर जोर दिया है।
विज्ञापन

Recommended

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन
Oppo Reno2

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि व् सर्वांगीण कल्याण की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Crime Archives

यूपी: रामलीला मंच पर डांस करने को लेकर विवाद, गोलीबारी में किशोर घायल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में रामलीला में डांस को लेकर लोगों में जमकर मारपीट हो गई। झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस दौरान रामलीला मंच पर तोड़फोड़ कर दी और फायरिंग भी हुई। फायरिंग करते समय छर्रा लगने से एक किशोर घायल हो गया...

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

महात्मा गांधी के 150वें जयंती वर्ष के मौके पर पीएम मोदी के घर पहुंचे शाहरुख-आमिर समेत कई सितारे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महात्मा गांधी के 150वें जयंती वर्ष के खास मौके पर कला और सिनेमा से जुड़ी कई हस्तियों से अपने आवास पर मुलाकात की। इस खास कार्यक्रम में शाहरुख खान, आमिर खान, कंगना रनौत समेत कई सेलेब्स नजर आए।

19 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree