बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

'वे नहीं चाहते कि मुसलमान पड़ोस में रहें'

Updated Sun, 05 Apr 2015 07:56 AM IST
विज्ञापन
muslim in gujrat

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
गुजरात के वडोदरा शहर में हटाई गईं दो बस्तियां 450 मुस्लिम परिवारों के लिए अंतहीन परेशानी की वजह बन गईं हैं। पांच महीने पहले वडोदरा के कल्याण नगर और कमाटीपुरा की दो बस्तियों को हटाने से वहाँ रहने वाले कुल 2500 से ज़्यादा परिवार बेघर हो गए थे। स्थापित परिवारों को मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत ड्रॉ के आधार पर घर दिए गए। हटाए गए मुस्लिम परिवारों को अस्थाई तौर पर माणेजा विस्तार में बने घरों में भेजा गया।
विज्ञापन


'नहीं चाहिए मुसलमान पड़ोसी'
लेकिन, वहाँ पहले से रहने वालों ने विस्थापित मुस्लिम परिवारों का ये कहते हुए विरोध किया कि 'वो नहीं चाहते कि उनके पड़ोस में मुसलमान रहें।'

अब आलम ये है कि विस्थापित मुस्लिम परिवारों में कई सड़क किनारे रहने के लिए मजबूर हैं। जिन्हें छत नसीब है, उनकी स्थिति भी ख़ास अच्छी नहीं है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

हम रास्ते पर हैं'

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us