एक मल्लाह, जो मंच पर मोदी से पहले देता है भाषण

Avanish Pathakअवनीश पाठक Updated Wed, 14 Oct 2015 07:51 PM IST
विज्ञापन
mukesh sahani a son of mallah and bjp star campaigner

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
मुकेश साहनी को बिहार के बाहर के शायद ही कोई जानता हो, हालांकि वह विधानसभा चुनावों में भाजपा के 'स्टार कैंपेनर' हैं।
विज्ञापन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और बिहार भाजपा के आला नेता अपनी रैलियों में उन्हें साथ रखना नहीं भूलते। मंच पर वह भाजपा दिग्गजों से पहले भाषण देते हैं। उनका कार्यक्रम की सूची पार्टी के बड़े नेताओं के कार्यक्रम की सूची के साथ छपी थी।
35 साल के मुकेश साहनी को साल भर पहले तक बिहार में भी कोई नहीं जानता था। पिछले साल उन्होंने दरभंगा में एक रैली की, जिसमें मल्लाह, साहनी, निषाद, बिंद और गंगोट जातियों के लोग शामिल हुए।
नदियों के किनारे रहने वाली इन जातियों का सूबे में 5 फीसदी वोट पर कब्जा है और उन्हें एकजुट करने के लिए की गई उस रैली ने बिहार की राजनीति में हलचल पैदा कर दी। मुकेश साहनी एकएक बिहार के आला नेताओं की निगाह में आ गए। उन्हें मल्लाहों का नेता माना जाने लगा। मुकेश भी खुद को 'मल्लाहों का बेटा' कहते हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

मुंबई के जानेपहचाने नाम हैं मुकेश साहनी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us