'सोनिया और उनके करीबियों पर डोरे डालो'

एजेंसी/नई दिल्ली Updated Sat, 01 Feb 2014 11:03 PM IST
Middleman had asked to target sonia and top leaders to bag chopper deal
वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे के कथित बिचौलियों में से एक ने भारत में अपने संपर्क सूत्र को यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एमके नारायणन को प्रभावित करने के निर्देश दिए थे।

इटली की एक अदालत को सौंपे गए एक दस्तावेज से इसका खुलासा हुआ है।

दस्तावेज का हवाला देते हुए आधिकारिक सूत्रों ने बताया है कि सौदे के मुख्य बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल ने भारत में अगस्ता वेस्टलैंड के दफ्तर में काम कर रहे अपने संपर्क के एक शख्स को फैक्स करके इस सिलसिले में निर्देश दिए थे।

मिशेल ने यहां पीटर फुलेट से कहा था कि वह सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, प्रणब मुखर्जी, वीरप्पा मोइली, ऑस्कर फर्नांडिस, एमके नारायणन और किसी विनय सिंह को प्रभावित करने की कोशिश करे ताकि सौदा हासिल किया जा सके।

दस्तावेज से जाहिर हुआ है कि बिचौलिये ने अपने संपर्क के शख्स से कहा था वह अपने देश के उच्चायुक्त से भी कहे कि सोनिया गांधी और उनके नजदीकी सहयोगियों को प्रभावित करें।

उसने यह भी कहा कि सोनिया गांधी अब एमआई-8 हेलीकॉप्टर में दौरा नहीं करेंगी। बगैर ज्यादा ब्योरा देते हुए उसने कहा कि वीवीआईपी हेलीकॉप्टर खरीदने के फैसले में उनकी भूमिका है।

गौरतलब इटली के अधिकारियों ने दस्तावेजों के इन तथ्यों का खुलासा भारतीय अधिकारियों से किया है। इससे पहले एक और दस्तावेज में जांच के दौरान एक हिसाब-किताब का भी खुलासा हुआ था।

इसके मुताबिक एक और बिचौलिये गुइदो हश्के एपी, जेसएयर और एफएएम जैसे संक्षिप्त नाम लिख कर उन्हें दी जाने वाली राशि का ब्योरा दिया था।

सरकार वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे को रद्द कर चुकी है और अगस्तावेस्टलैंड से 5200 करोड़ रुपये से ज्यादा के हर्जाने की भी मांग की है। रक्षा मंत्रालय अब वीवीआईपी के दौरे की जरूरतों के मुताबिक दूसरे विमान तैयार करने में लगा है।

Spotlight

Most Read

India News Archives

पहली बार बांग्लादेश की धरती से विद्रोहियों के ठिकाने पूरी तरह से साफ: BSF

भारत की पूर्वी सीमा पर दशकों से चले आ रहे सीमा पार विद्रोही शिविरों को लेकर एक अहम जानकारी आई है।

18 दिसंबर 2017

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls