पेट में छिपी थी 1 करोड़ की कोकीन, पैकेट खुला और मौत

अमर उजाला, दिल्ली Updated Thu, 24 Oct 2013 12:34 PM IST
विज्ञापन
man with hidden cocaine in stomach died after it opens

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
वह अफगानिस्तान से दिल्ली आया था। आने के एक रोज बाद रहस्यमयी हालात में उसकी मौत हो गई। उसका दोस्त शव को एम्बामिंग के लिए एम्स ले गया और कभी नहीं लौटा।
विज्ञापन

एम्बामिंग एक वैज्ञानिक प्रक्रिया है, जिससे शव को सुरक्षित रखने के उपाय किए जाते हैं।
अगले दस रोज कोई भी शव लेने नहीं आया। पुलिस को समझ नहीं आ रहा था कि कोई शव मुर्दाघर में छोड़कर गायब क्यों हो सकता है? जब पोस्टमार्टम किया, तो राज से पर्दा हटा।
इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक पेट चीरने पर डॉक्टरों को सौ से ज्यादा टॉफीनूमा कैप्सूल मिले, जिन्हें देखकर वह दंग रह गए। इनमें कोकीन भरी थी।

मौत की वजह थी ड्रग ओवरडोज। पुलिस अधिकारी ने बताया, "इनमें से एक कैप्सूल पेट के अंदर ही खुल गया और पूरे शरीर में कोकीन फैल गई। उसकी ड्रग ओवरडोज से मौत हो गई।"

पुलिस के मुताबिक नियाज मोहम्मद 9 अक्टूबर को दिल्ली पहुंचा और सीधा अपने दोस्त इशातुल्ला के घर गया, जो लाजपत नगर के कस्तूरबा निकेतन में रह रहा था। अगले रोज नियाज की मौत हो गई।

इशातुल्ला शव को सहेजकर रखने की प्रक्रिया पूरी कराने के लिए एम्स गया। लेकिन अस्पताल ने कहा कि वह बिना पोस्टमार्टम के एम्बामिंग नहीं कर सकते या उसे पुलिस से एनओसी लाना होगा।

अधिकारी ने बताया, "इशातुल्ला हमारे पास आया और एनओसी मांगा। उसने बताया कि उसका दोस्त अफगानिस्तान से आया था, जिसकी मौत हो गई है। इसके शव की एम्बामिंग जरूरी है, ताकि वापस काबुल भेजा जा सके। अस्पताल ने उसे कहा था कि उन्हें पोस्टमार्टम करना होगा, वरना एनओसी पुलिस देगी।"
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us