महाराष्ट्र: क्या पर-प्रांतीयों को रोकने की कोशिश में है राज्य सरकार?

Ruchir Shukla Updated Wed, 01 Apr 2015 10:59 PM IST
Maharashtra govt. special plan for other state people.
ख़बर सुनें
रोजी-रोटी के लिए दूसरे राज्यों से मुंबई आने वाले लोग शिवेसना और मनसे जैसी प्रखर मराठीवादी पार्टियों के निशाने पर रहे हैं लेकिन अब राज्य सरकार भी उन्हें खदेड़ने पर उतारू हो गई है।
महाराष्ट्र की भाजपा-शिवसेना सरकार ने वित्तीय वर्ष 2015-2016 के आम बजट में मुंबई आने वाली पर-प्रांतीयों की भीड़ को रोकने के लिए बाकायदा निधि का प्रस्ताव किया गया है। इसे लेकर हंगामा मचा तो वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार बचाव में आ गए। उन्होंने सफाई दी कि पर-प्रांतीयों को रोकने की ऐसी कोई योजना नहीं है।

विधानसभा में बजट पेश करते हुए वित्तमंत्री ने पर-प्रांतीयों को मुंबई आने से रोकने की योजना का कोई जिक्र नहीं किया था। लेकिन, सामान्य प्रशासन विभाग के विषय क्रमांक 29 (अ) की कार्य निधि वितरण पत्रिका में ‘मुंबई आने वाले पर-प्रांतीयों की भीड़ को रोकने की उपाय योजना’ शीर्षक के तहत निधि प्रस्तावित की गई है।
आगे पढ़ें

हंगामा बढ़ने पर बचाव में आए वित्तमंत्री

RELATED

Spotlight

Most Read

India News Archives

पहली बार बांग्लादेश की धरती से विद्रोहियों के ठिकाने पूरी तरह से साफ: BSF

भारत की पूर्वी सीमा पर दशकों से चले आ रहे सीमा पार विद्रोही शिविरों को लेकर एक अहम जानकारी आई है।

18 दिसंबर 2017

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen