विज्ञापन

'ज्यादा बच्चे पैदा करें हिंदू, नहीं तो मुसलमान कर लेंगे कब्जा'

टीम डिजिटल/ अमर उजाला, दिल्ली Updated Sat, 04 Apr 2015 03:02 PM IST
Hindus must reproduce more children
विज्ञापन
ख़बर सुनें
शुक्रवार को अमेरिका की पीउ रिसर्च की रिपोर्ट आई है, जिसके अनुसार भारत 2050 तक दुनिया भर में सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश हो जाएगा।
विज्ञापन
इसी रिपोर्ट का हवाला देते हुए विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के अंतरराष्ट्रीय महासचिव चंपत राय ने एक विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि हिंदुओं को ज्यादा बच्चे पैदा करने चाहिए।

चंपतराय ने कहा कि अगर हिंदू एक बच्चा पैदा करने की मानसिकता से बाहर नहीं निकलते हैं तो एक दिन पूरे देश पर मुसलमानों का कब्जा हो जाएगा।

उनके अनुसार यदि हिंदू कम बच्चे पैदा करते रहे, तो 2050 में पूरी हिंदू जाति को इसके बहुत ही भयावह परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

जारी रखेंगे घर वापसी अभियान

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

India News Archives

चाबहार परियोजना पर फिलहाल नहीं बहेगी नाराजगी की बयार  

ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध के कारण भारत के लिए कूटनीतिक दृष्टि से बेहद अहम चाबहार परियोजना पर फिलहाल कोई असर नहीं पड़ेगा।

18 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree