मुस्लिमों ने मंदिर में स्थापित कराईं मूर्तियां

ब्यूरो/अमर उजाला, मैनपुरी Updated Fri, 03 Apr 2015 03:05 PM IST
hindu muslim unity in mohanpur.
ख़बर सुनें
मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना, हिंदी हैं हमवतन हैं हिंदोस्तां हमारा। इकबाल के ये शब्द मोहनपुर में आज फिर जीवंत हो गए। कुछ दिन पहले जहां एक अराजकतत्व ने गांव के प्राचीन मंदिर में मूर्तियां तोड़ी थीं, वहीं शनिवार को गांव भर ने एकजुट होकर मंदिर में नई प्रतिमाएं स्थापित कराईं।
इसके उपरांत हिंदू-मुसलमान दोनों समुदाय के लोगों ने मंदिर में पुन: मूर्तियों को स्थापित करने का प्रण किया और पूरा किया। कई मुस्लिम परिवार मूर्ति शोभायात्रा में शामिल हुए। हिंदू-मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कौमी एकता का अनूठा उदाहरण पेश किया।

बता दें कि बुधवार को मोहनपुर में अराजकतत्व द्वारा गांव के प्राचीन मंदिर में मूर्तियां तोड़ने पर समूचे गांव में आक्रोश दिखा। शुक्रवार को ग्रामीणों ने नई प्रतिमाएं स्थापित कराए जाने की मांग को लेकर मैनपुरी-भोगांव रोड पर एक घंटे जाम लगाकर नारेबाजी भी की थी। ग्राम प्रधान डाक्टर लाल सिंह आदि ने नई प्रतिमाएं स्थापित कराए जाने का आश्वासन देकर जाम खुलवा दिया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
आगे पढ़ें

सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल

Recommended

Spotlight

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree