जी न्यूज के संपादकों की जमानत पर सुनवाई टली

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क Updated Sat, 01 Dec 2012 02:44 PM IST
hearings on zee news editors bail plea deffered
जिंदल समूह से सौ करोड़ रुपये की उगाही के प्रयास के आरोपों में गिरफ्तार जी न्यूज के दो संपादकों सुधीर चौधरी और समीर अहलूवालिया की जमानत पर सुनवाई टल गई है। इस मामले में अगली सुनवाई 3 दिसंबर को होगी। कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल की कंपनी के कथित तौर पर कोयला घोटाले में शामिल होने की खबर प्रसारित नहीं करने के बदले में पैसे मांगने के आरोप में सुधीर और समीर को 27 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था।

इससे पहले साकेत स्थित मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट गौरव राव के आदेश पर शुक्रवार को सुधीर चौधरी और समीर अहलूवालिया को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया गया। अदालत ने दोनों संपादकों के उस तर्क को खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने अपनी जान को खतरा बताते हुए जेल में अन्य कैदियों से अलग रखने का आग्रह किया था।

दोनों की रिमांड अवधि समाप्त होने पर शुक्रवार को साकेत स्थित मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट गौरव राव के समक्ष पेश किया गया। जांच अधिकारी ने अदालत को बताया कि मामले की जांच जारी है और जी न्यूज के सेल्स हेड अमित त्रिपाठी, चेयरमैन सुभाष चंद्रा के भाई एवं निदेशक जवाहर गोयल व लीगल हेड ए. मोहन को पूछताछ के लिए बुलाया गया था। उन्होंने कहा कि मामले की तह तक पहुंचने के लिए कई अन्य लोगों से भी पूछताछ होगी।

अदालत ने दोनों आरोपियों पर धारा 420 को हटाने पर जांच अधिकारी से कहा यदि 420 के साक्ष्य सामने आते हैं तो पुलिस फिर से इस धारा को लगा सकती है। 28 नवंबर को दोनों की रिमांड देते हुए मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट गोमती मिनोचा ने धारा 420 को आधारहीन मानते हुए इसे हटा दिया था।

Spotlight

Most Read

India News Archives

पहली बार बांग्लादेश की धरती से विद्रोहियों के ठिकाने पूरी तरह से साफ: BSF

भारत की पूर्वी सीमा पर दशकों से चले आ रहे सीमा पार विद्रोही शिविरों को लेकर एक अहम जानकारी आई है।

18 दिसंबर 2017

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls