विज्ञापन
विज्ञापन

'चुनाव सुधार में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी'

नई दिल्ली/ब्यूरो Updated Fri, 25 Jan 2013 08:09 PM IST
electoral reform no efforts will be spared says
ख़बर सुनें
लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए चुनाव सुधार में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। चुनाव को प्रभावित करने वाले धनबल और बाहुबल पर अंकुश लगाया जाएगा। इसके लिए सरकार तेजी से कदम उठा रही है।
विज्ञापन
ये बातें राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर शुक्रवार को आयोजित कार्यक्रम में कानून मंत्री अश्वनी कुमार ने कही। उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दल तमाम मतभेदों के बावजूद चुनाव सुधार के मुद्दे पर तैयार हैं। इस मसले पर व्यापक तैयारी की गई है और जल्द ही बदलाव किए जाएंगे।

कानून मंत्री ने कहा कि सरकार और आयोग ने यह पहल 2010 में शुरू की थी। चुनाव सुधार पर देशभर में जनता से राय ली गई है और इसके लिए विधि आयोग से भी सिफारिशें पेश करने को कहा गया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि धनबल और बाहुबल चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करते हैं। इसमें बड़े बदलाव की जरूरत है जो सुधार से संभव हो सकेगा।

देश के लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए चुनाव आयोग और सरकार सुधार को जल्द मूर्तरूप देने के प्रयास में हैं। याद रहे कि 2010 में सरकार और आयोग ने सुधार के लिए देश भर में कार्यक्रमों का आयोजन कर राजनीतिक पार्टियों, एनजीओ और आम आदमी की राय लेने की घोषणा की थी। इन विचारों के आधार पर एक चुनाव सुधार विधेयक संसद में पेश कर कानून बनाया जाना है।

कानून मंत्री ने कहा कि राजनीतिक दल भी चुनाव सुधार के लिए तैयार हैं। तमाम मतभेदों के बावजूद सभी राजनीतिक दल सुधार चाहते हैं। सरकार और आयोग एकजुट होकर राजनीति में अपराधीकरण रोकने, चुनाव खर्च में कमी और ओपिनियन पोल पर पाबंदी जैसे सुधार के लिए कदम बढ़ा रहे हैं।

चुनाव सुधार: उठ रहे सवाल
1. क्या गंभीर मामलों में जिनके खिलाफ अदालत आरोप तय कर चुकी है, क्या उन्हें चुनाव लड़ने से रोका जाए। अभी सिर्फ दोषी ठहराए गए लोगों के ही चुनाव लड़ने पर रोक है।
2. क्या किसी के एक से ज्यादा सीट से चुनाव लड़ने पर पाबंदी लगा दी जाए।
3. क्या उम्मीदवारों की तरह राजनीतिक पार्टियों के खर्चे की भी सीमा तय की जाए।
4. समय पर खर्च का हिसाब ना देने वाले उम्मीदवारों और पार्टियों के खिलाफ कार्रवाई हो।
5. चुनाव के वक्त चुनाव आयोग के अधिकारों में और क्या इजाफा हो कि चुनाव में किसी गड़बड़ी का डर ना रहे।
6. क्या ईवीएम में किसी को मत न देने का बटन भी शामिल किया जाए।
विज्ञापन

Recommended

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश
Dholpur fresh

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

हिमाचल के सेब बगीचों पर वूली एफिड की मार, विशेषज्ञों ने दी ये सलाह

हिमाचल के सेब उत्पादित क्षेत्रों में वूली एफिड की मार पड़ी है। इससे बागवान चिंतित हो गए हैं।

28 नवंबर 2019

विज्ञापन

माइक्रोनेशिया के यप द्वीप में आज भी चलते हैं पत्थर के सिक्के !

दुनिया में Yap एक ऐसी जगह है जहां Rai Stone Money चलती है। Micronesia Island की ये जगह पुरानी मानी जाती है।

10 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election