विज्ञापन

71 लाख तो छोटी रकम, 71 करोड़ होता तो सोचतेः बेनी

नई दिल्ली/ एजेंसी Updated Tue, 16 Oct 2012 01:14 AM IST
विज्ञापन
Beni defends Khurshid, says Rs 71 lakh too small for Ministers
ख़बर सुनें
कानून मंत्री सलमान खुर्शीद के बचाव में उतरे केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा विवादित बयान देकर एक बार फिर घिर गए। अब उन्होंने कह दिया है कि खुर्शीद जैसा व्यक्ति मात्र 71 लाख रुपये के लिए ऐसा कुछ नहीं करेगा, एक केंद्रीय मंत्री के लिए यह मामूली रकम है।
विज्ञापन
वर्मा ने कहा कि सलमान खुर्शीद एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं। वह केंद्रीय मंत्री भी हैं। वह पहले भी केंद्रीय मंत्री थे। जब वह कह रहे हैं कि कोई घोटाला नहीं हुआ है तो उन पर भरोसा किया जाना चाहिए। मुझे नहीं लगता कि खुर्शीद जैसा व्यक्ति 71 लाख रुपये के लिए कुछ करेगा। यह एक केंद्रीय मंत्री के लिए बहुत छोटी रकम है।

वर्मा ने आगे कहा कि यदि 71 करोड़ रुपये की रकम होती तो मैं मामले को गंभीर मानता। वह खुर्शीद पर ट्रस्ट को लेकर लगे घोटाले के आरोपों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। मालूम हो कि खुर्शीद और उनकी पत्नी ने रविवार को सभी आरोपों को खारिज कर दिया था।

वर्मा ने खुर्शीद पर निशाना साधने वाले अरविंद केजरीवाल पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि केजरीवाल तो एक पार्टी बनाने जा रहे हैं। मेरी शुभकामनाएं उनके साथ हैं। भारत में बहु पार्टी व्यवस्था है। लेकिन मेरी उन्हें एक सलाह है कि हमेशा भोंकते ही मत रहिए, कभी दहाड़िये भी। जो हमेशा भोंकते रहते हैं उन्हें कोई नहीं पूछता।

केंद्रीय मंत्री के बयान की तीखी आलोचना

केंद्रीय मंत्री बेनी वर्मा के 71 लाख रुपये के बयान की इंटरनेट पर तीखी आलोचना हो रही है। सोशल नेटवर्किंग साइटों पर लोगों ने उनके खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। मीडिया में उनका बयान आते ही ट्विटर समेत अन्य साइटों पर लोगों के कमेंट आने लगे।

शेयर बाजार के दिग्गज राकेश झुनझुनवाला ने कहा कि इकॉनोमिक्स का नोबेल पुरस्कार दे दिया गया है। लेकिन यह बेनी प्रसाद वर्मा को दिया जाना चाहिए था, जिन्होंने एमएसवी यानी मिनिमम स्केल वैल्यू 71 लाख होने की खोज की। बेनी सही हैं, 71 लाख का घोटाला काफी छोटा है। भारतीय नेताओं की भी कुछ प्रतिष्ठा है। 

एक व्यक्ति ने लिखा है कि यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी तो बहुत खुश होंगी कि बेनी वर्मा ने उनके दामाद रॉबर्ट वाड्र का बचाव नहीं किया। एक अन्य ट्वीट में कहा गया है कि बेनी वर्मा और दिग्विजय सिंह के बीच कड़ा मुकाबला है।
देखो कौन ज्यादा भौंकता है।

इसी तरह एक अन्य ट्वीट किया गया कि बेनी प्रसाद वर्मा ने खुर्शीद से कहा, बस 71 लाख का घोटाला, नाक कटवा दी यार। कुछ ढंग की रकम तो रख लेते। 

कोटः

बेनी प्रसाद वर्मा दूसरे दिग्विजय सिंह हैं। वह अपने मंत्रालय पर ध्यान देने के बजाय इस तरह के बयान दे रहे हैं।
शाहनवाज हुसैन, भाजपा प्रवक्ता
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us