अपनों को लाभ पहुंचाने में जुटी केंद्र सरकार

अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 01 Jan 2014 12:43 PM IST
विज्ञापन
centre benefiting own people

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
लोकसभा चुनाव से पहले मतदाताओं को लुभाने के साथ-साथ केंद्र अपनों को भी लाभ पहुंचाने में जुटी हुई है। केंद्रीय शहरी विकास मंत्री कमलनाथ ने दिल्ली के सबसे पॉश इलाके में स्थित सरकारी कॉलोनी के सामुदायिक केंद्र को अपने चहेतों के निजी क्लब को सौंप दिया है।
विज्ञापन

इसके पीछे मंत्रालय का दावा है कि निजी क्लब को सामुदायिक क्लब चलाने से जो लाभ मिलेगा, उसमें तीस प्रतिशत की हिस्सेदारी सरकार की होगी।
दक्षिणी दिल्ली के मोती बाग कॉलोनी के निवासी कल्याण परिषद का दावा है कि शहरी विकास मंत्री के आदेश से की जाने वाली यह कवायद पूरी तरह से मनमानी है और निवासियों के हितों के खिलाफ है।

पढ़ें. कांग्रेस के तलवे चाट रहे हैं लालू: मुलायम

अभी कुछ साल पहले भी शहरी विकास मंत्रालय ने चाणक्यपुरी स्थित करोड़ों की जमीन को एक निजी होटल को कौड़ियों के भाव बेच दिया था। मंत्रालय की ओर से लिए जा रहे इस तरह के फैसले सरकारी हितों के पूरी तरह खिलाफ है। इस कॉलोनी में ज्यादातर सरकार के बड़े अधिकारी और उनके परिवार रहते हैं।

होटल की ओर से सामुदायिक केंद्र तक पहुंचने वाले मार्ग को भी बंद कर दिया गया है। इस सामुदायिक केंद्र में कॉलोनी के निवासी योग, टेबल टेनिस, सांस्कृतिक कार्यक्रम, निवासी कल्याण परिषद की बैठकें और मेल मिलाप के अलावा लेडीज क्लब भी चलते हैं।

पढ़ें, जयराम ने खोली मोदी की पोल

शहरी विकास मंत्रालय ने इन सारी गतिविधियों के अलावा दूसरी मनोरंजन कार्यक्रम को संचालित कराने का जिम्मा भी निजी पार्टी को सौंप दिया है। सरकार के बड़े पदों पर आसीन अधिकारियों ने अब मंत्रालय के इस आदेश के खिलाफ विरोध करने का निश्चय किया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X