विज्ञापन
विज्ञापन

अफ्सपा कानून लोकतंत्र के खिलाफ: हबीबुल्लाह

नई दिल्ली/एजेंसी Updated Sun, 27 Jan 2013 10:38 PM IST
afspa law is against democracy said habibullah
ख़बर सुनें
राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष वजाहत हबीबुल्लाह ने रविवार को कहा कि अफ्सपा कानून लोकतंत्र और संविधान के खिलाफ है। यदि इस कानून को अशांत इलाकों से नहीं हटाया जा सकता तो सेना से बातचीत कर इसकी खामियां दूर की जानी चाहिए।
विज्ञापन
वे जस्टिस वर्मा कमेटी की सिफारिशों पर अपनी राय जाहिर कर रहे थे, जिनमें कहा गया है कि महिलाओं का यौन शोषण करने वाले सेना या पुलिस कर्मियों को अफ्सपा कानून के तहत संरक्षण नहीं मिलना चाहिए।

हबीबुल्लाह ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में ऐसे कानून नहीं होने चाहिए। बलात्कारियों को फांसी न देने की वर्मा कमेटी की सिफारिश पर उन्होंने सहमति जताई। उन्होंने कहा कि पांच जनवरी को वर्मा कमेटी को दिए अपने सुझावों में उन्होंने बलात्कारियों को फांसी देने का विरोध किया था।
विज्ञापन

Recommended

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके
सब कुशल मंगल

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

हिमाचल के सेब बगीचों पर वूली एफिड की मार, विशेषज्ञों ने दी ये सलाह

हिमाचल के सेब उत्पादित क्षेत्रों में वूली एफिड की मार पड़ी है। इससे बागवान चिंतित हो गए हैं।

28 नवंबर 2019

विज्ञापन

9 दिसंबर राशिफल : ऐसा रहेगा आपका आज का दिन, देखिए क्या कहती है आपकी राशि ?

9 दिसंबर का दिन आपके लिए कैसा रहनेवाला है और क्या इस दिन कोई रुका कार्य होने की उम्मीद है। इसके साथ ही क्या कहती है आपकी राशि देखिए यहां।

8 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election