ऑनलाइन शिक्षा के लिए वरदान है ए-व्यू सॉफ्टवेयर

नई दिल्ली/ब्यूरो Updated Mon, 12 Nov 2012 11:58 PM IST
a view software is good for online education
दुनिया के सबसे सस्ते टैबलेट आकाश को ऑनलाइन ई-क्लासेज से जोड़ने के लिए तैयार ए-व्यू सॉफ्टवेयर अब किसी भी कंप्यूटर, मोबाइल व टैबलेट के लिए निशुल्क उपलब्ध होगा। यह जानकारी सॉफ्टवेयर विकसित करने वाले अमृत विश्वविद्यालय में ई-लर्निंग रिसर्च लैब के निदेशक कमल बिजलानी ने सोमवार को दी। उल्लेखनीय है कि अमृत विवि मानव संसाधन मंत्रालय के आईसीटी विभाग के साथ मिलकर ब्रांड बैंड के माध्यम से देश के दूरस्थ क्षेत्रों को ई-शिक्षा से जोड़ने के लिए काम कर रहा है।

बिजलानी ने बताया कि ऑनलाइन कक्षा से जुड़ने के लिए इस सॉफ्टवेयर का विकास विश्वविद्यालय द्वारा लगभग एक दशक से किया जा रहा है। अब वे इसे देश के हर व्यक्ति के लिए निशुल्क उपलब्ध करा रहे हैं। ए-व्यू डॉट इन वेबसाइट से इस सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करके किसी भी कंप्यूटर, मोबाइल और टैबलेट में लोड किया जा सकता है। आकाश को स्टूडेंट फ्रेंडली बनाने में भी अमृत विवि मुंबई आईआईटी के साथ मिलकर काम कर रहा है। राष्ट्रपति ने 11 नवंबर को इसी सॉफ्टवेयर की मदद से देश के ढाई सौ जगहों पर 14 हजार शिक्षकों व छात्रों से सीधे बातचीत की थी।

बिजलानी ने बताया कि भारत सरकार द्वारा विश्वविद्यालयों तथा डिग्री कालेजों को ऑनलाइन जोड़ने में भी एव्यू सॉफ्टवेयर का ही प्रयोग किया जा रहा है। अभी तक 350 विश्वविद्यालयों तथा 1000 कॉलेजों में इस सॉफ्टवेयर के जरिए ई-शिक्षा के लिए काम शुरू हो चुका है। देशभर के संस्थानों में उम्दा शिक्षकों के क्लास को ऑनलाइन किए जाने की योजना है। इससे पिछड़े क्षेत्रों में अच्छे शिक्षकों की कमी को काफी हद तक दूर किया जा सकेगा। यही नहीं, मेटा विश्वविद्यालयों में भी छात्रों को इसी तकनीक से शिक्षा प्रदान किए जाने का लक्ष्य है।

Spotlight

Most Read

India News Archives

पहली बार बांग्लादेश की धरती से विद्रोहियों के ठिकाने पूरी तरह से साफ: BSF

भारत की पूर्वी सीमा पर दशकों से चले आ रहे सीमा पार विद्रोही शिविरों को लेकर एक अहम जानकारी आई है।

18 दिसंबर 2017

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper