गूगल के सहयोग से एप तैयार करेगा एकेटीयू , मिली 70 लाख रुपये की सहायता

ब्यूरो/अमर उजाला, लखनऊ Updated Wed, 06 Dec 2017 12:29 PM IST
aktu will prepare the app with the help of Google
ख़बर सुनें
डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) गूगल के सहयोग से एप तैयार करेगा। इसके लिए विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज में एक कोर्ड लैब बनाई जाएगी। कोर्ड लैब के लिए गूगल ने विश्वविद्यालय को एक लाख डॉलर (लगभग 70 लाख रुपये) की सहायता दी है।
मंगलवार को कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में हुई वित्त समिति की बैठक में यह जानकारी दी गई। सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज के निदेशक प्रो. मनीष गौड़ ने बताया कि इस लैब में आज की जरूरतों के अनुसार एप डवलप किए जाएंगे। इसमें गूगल के तकनीकी विशेषज्ञों का भी सहयोग मिलेगा। वे एमटेक के विद्यार्थियों को ट्रेनिंग देंगे।

सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज में ही सत्र 2018-19 से नैनो टेक्नोलॉजी और मैकाट्रिनिक्स में अलग-अलग स्पेशलाइजेशन वाला एमटेक कोर्स शुरू किया जाएगा। प्रो. गौड़ ने बताया कि मैकाट्रिनिक्स, कंप्यूटर साइंस और इलेक्ट्रॉनिक्स दोनों से जुड़ा हुआ है। इसके तहत रोबोटिक्स की लैब स्थापित की जाएगी। यहां विद्यार्थियों को विशेष क्षेत्र के लिए काम करने वाले रोबोट बनाने का तरीका बताया जाएगा। इस लैब में विद्यार्थी उद्योगों के अनुसार ऑटोमेशन भी करेंगे।
आगे पढ़ें

हो सकेंगे इनडोर खेलकूद के कार्यक्रम

RELATED

Spotlight

Most Read

Shimla

बिजली बोर्ड में 128 पदों के लिए कर्मचारी चयन आयोग ने ली भर्ती परीक्षा

हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने रविवार को बिजली बोर्ड में लाइनमैन और सब स्टेशन अटेंडेंट भर्ती परीक्षा का संचालन किया।

16 जुलाई 2018

Related Videos

फेसबुक LIVE के दौरान मौत, 199 किमी/घंटे की रफ्तार से चला रहे थे बाइक

फेसबुक लाइव का नशा युवकों पर इस कदर चढ़ गया है कि वो चंद कमेंट्स और लाइक्स के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं। ताजा मामला छत्तीसगढ़ का है जहां इसी चक्कर में दो युवकों की मौत हो गई। देखिए क्या है पूरा मामला।

17 जुलाई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen