बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

UP Police SI Exam 2021: जल्द ही होने वाली एसआई की लिखित परीक्षा का क्यों बढ़ेगा कटऑफ, जान लीजिए इसके पीछे की बड़ी वजह

Media Solution Initiative Published by: पीआर डेस्क Updated Mon, 26 Jul 2021 05:47 PM IST

सार

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड की ओर से जल्द ही 9534 पदों पर होने वाली एसआई भर्ती की लिखित परीक्षा की तारीखों का ऐलान किया जा सकता है। ऐसे में आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को अपनी तैयारियां तेज कर देनी चाहिए। 
विज्ञापन
उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

हाल ही में उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड की ओर यूपी पुलिस सबइंस्पेक्टर (SI), पीएसी एवं अग्निशमन अधिकारी द्वितीय समेत कई अन्य पदों में होने वाली 9,534 वैकेंसियों की आवेदन प्रक्रिया पूरी करा ली गई है जिसमें करीब 15 लाख महिला एवं पुरुष उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस भर्ती के लिए जल्द ही सितंबर और अक्टूबर तक चयन प्रक्रिया के तहत पहले चरण के लिए होने वाली लिखित परीक्षा की शुरुआत कर दी जाएगी। माना जा रहा है कि इतनी बड़ी संख्या में उम्मीदवारों के आवेदन करने के बाद यह परीक्षा प्रक्रिया लगभग डेढ़ से दो महीने चलेगी। इस भर्ती के लिए लाखों की तादाद में अभ्यर्थियों के आवेदन करने के बाद पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड के सामने अव्वल उम्मीदवारों का चयन करना एक बड़ी चुनौती भी होगी जिसके लिए भर्ती बोर्ड एग्जाम को जटिल कर सकता है। इसके अलावा यह भी कहा जा रहा है कि यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड द्वारा आयोजित की जाने वाली एसआई भर्ती का कटऑफ भी खासा अधिक जा सकता है। आज हम आपको इस आर्टिकल में इन्हीं सब बातों के तर्कसंगत जवाब देने का प्रयास करंगे लेकिन उससे पहले अगर आप एक प्रतियोगी छात्र हैं और आपको जल्द ही किसी भी प्रतियोगी एग्जाम में बैठना है तो अभी सफलता द्वारा उपलब्ध कराई जा रही UP Police कोर्स को ज्वॉइन कर लेना चाहिए। 
विज्ञापन

जानिए कटऑफ क्यों अधिक जा सकता है

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस (SI) भर्ती का काफी लंबे समय से उम्मीदवार इंतजार कर रहे थे। इसके पहले यूपी में साल 2011 में दरोगा भर्ती हुई थी जिसमें उम्मीदवारों का चयन प्री और मेंस परीक्षा के आधार पर हुआ था। हालांकि साल 2016 की सबइंस्पेक्टर भर्ती में यह अवधारणा बदल कर सिंगल रिटेन एग्जाम कर दी गई थी जिसके बाद से उप-निरीक्षक के पदों पर कोई भर्ती नहीं हुई। ऐसे में तकरीबन 5 से 6 वर्षों तक अभ्यर्थियों को इसकी प्रतीक्षा करनी पड़ी जो अब जाकर खत्म हुई है। उत्तर प्रदेश में दरोगा बनने की चाहत रखने वाले उम्मीदवार विगत 5 वर्षों से इसकी तैयारी कर रहे हैं साथ ही कोरोना उम्मीदवारों को घर बैठे उच्चगुणवत्ता वाली शिक्षा प्राप्त करने का मौका भी मिला जोकि उनकी तैयारी को और भी मजबूत बनाता है। शायद यही वजह भी है कि बीते कुछ दिनों में आने वाले प्रतियोगी परीक्षाओं के परिणाम में गौर किया जाए तो देखा जा रहा है कि पिछली परीक्षाओं की तुलना में अब लगभग सभी परीक्षा का कटऑफ़ बढ़ा हुआ पाया जा रहा है फिर चाहे वो एसएससी हो, बिहार पीसीएस हो या अन्य कोई भी भर्ती। ऐसे में यह भी अनुमान लगाया जा सकता है कि जल्द ही होने वाली एसआई भर्ती के लिए होने वाली लिखित परीक्षा के परिमाण भी बेहद ही चौकाने वाले होंगे जिसके लिए उम्मीदवारों को कड़ी मेहनत करनी चाहिए। 

अनुमानित कितना जा सकता है कटऑफ 

सामान्य वर्ग - 280 से 300 अंक 
अन्य पिछड़ा वर्ग - 270 से 290 अंक 
अनुसूचित जाति- 250 से 270 अंक 
अनुसूचित जनजाति- 220 से 240 अंक 

कर सकते हैं फ्री में पक्की तैयारी 

अगर आप अपनी किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी को पक्का करना चाहते हैं तो आज ही तो आज ही  Safalta  द्वारा चलाई जा रही फ्री Class को ज्वॉइन कर सकते हैं जहां सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की निशुल्क पक्की तैयारी कराई जा रही है या अभी डाउनलोड करें Safalta-app

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

 रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X